BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Sunday, 28 October 2012

देहरादून - टीईटी पास बीटीसी प्रशिक्षितों की राह आसान




देहरादून - टीईटी पास बीटीसी प्रशिक्षितों की राह आसान

जागरण ब्यूरो, देहरादून
सूबे में प्राइमरी शिक्षकों के रिक्त पदों पर नियुक्ति में पग-पग पर पेश आ रही बाधाओं से शिक्षा महकमा हलकान है। नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों की नियुक्ति पर लगी रोक हटने के मामले में महकमे की नजर हाईकोर्ट के अंतिम आदेश पर टिकी हैं। फिलवक्त उन्हीं बीटीसी प्रशिक्षितों के लिए नियुक्ति के द्वार खुले हैं, जिन्होंने शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) भी उत्तीर्ण की है।
सरकार ने 1147 नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों को टीईटी परीक्षा में शामिल होने से छूट देने का आदेश जारी किया है। वहीं प्राइमरी स्कूलों में रिक्त पदों पर पढ़ा रहे तकरीबन 1300 शिक्षा मित्रों को भी बीटीसी प्रशिक्षण दिलाया गया है। नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों की तर्ज पर टीईटी पास करने की बाध्यता खत्म करने को प्रशिक्षित शिक्षा मित्र आंदोलनरत हैं। शिक्षा मित्रों का कहना है कि वह स्कूलों में अध्यापनरत हैं, साथ ही उन्होंने बीटीसी प्रशिक्षण भी लिया है। लिहाजा नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों की तर्ज पर उनके लिए भी टीईटी पास करने की बाध्यता नहीं होनी चाहिए। उनकी याचिका पर हाईकोर्ट ने फिलहाल नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों को नियमित शिक्षकों के रूप में नियुक्ति पर रोक लगा दी है। महकमे की ओर से उक्त मामले में अगली सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट में पक्ष रखा जाएगा। सूत्रों के मुताबिक महकमा शिक्षा का अधिकार एक्ट के मुताबिक पात्रता परीक्षा के जरिए बीटीसी प्रशिक्षण के लिए चयनित होने और प्रशिक्षण लेने वालों को प्राइमरी शिक्षकों के तौर पर नियुक्ति का पात्र मान रहा है। शिक्षा मित्रों के मामले में पात्रता परीक्षा से चयन नहीं होने का पेच आड़े आ रहा है। यह मामला अब हाईकोर्ट में पहुंच चुका है, लिहाजा महकमे की निगाहें हाईकोर्ट के फैसले पर टिकी हैं। संपर्क करने पर शिक्षा सचिव मनीषा पंवार ने कहा कि उक्त मामले में हाईकोर्ट का फैसला आने के बाद फैसला लिया जाएगा। अलबत्ता, टीईटी उत्तीर्ण करने वाले नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों की नियुक्ति में अड़चन नहीं है। निदेशालय से ऐसे प्रशिक्षितों के बारे में जानकारी मांगी गई है।
इनसेट-
नियमित बीटीसी प्रशिक्षितों की जिलेवार संख्या:
उत्तरकाशी-82, टिहरी-89, पौड़ी-85, चमोली-89, रुद्रप्रयाग-74, देहरादून-91, उधमसिंहनगर-94, हरिद्वार-84, अल्मोड़ा-97, नैनीताल-91, पिथौरागढ़-95और बागेश्वर-89

Source Jagran
28-10-2012

17 comments:

rinku sharma said...

Mere tet me 106, flat 235, gunak 62.38 hai gem male art me kya chance hai please koi btao. Badi tension hai.

rinku sharma said...

Sir meri merit 62.38 hai gen male art me mera kya chance hai. Please sir tel me.

Chintu singh said...

Ab sirf ek hi intresting point bacha hai, pahle tet12 ya 72825 ki bharti hogi.

raj said...

editor sahab ye kya ho raha h comment ek din bad kyo publish hi rahi h

Triloki nath said...

Are bhai gov kuch karegi ya yesi hi hath par hath rakh ke baithi rahegi...

Shiv mbd said...

Nikammi gov hai bhai....

Shiv mbd said...

Nikammi gov hai bhai....

Shiv mbd said...

Nikammi gov hai bhai....

amit said...

(genral male science ) gurank 63.67 flat 227 tet 121 koi bhi bataiya qua chance hai ma bhoot upset hoo bhiyo

amit said...

(genral male science ) gurank 63.67 flat 227 tet 121 koi bhi bataiya qua chance hai ma bhoot upset hoo bhiyo

vijai rathi said...

parbhat ji sab suna suna kyo hain?

Priti Singh said...

Hi

Priti Singh said...

Please sir ye batayen anudesako ki vacency process kya ho sakti hai and add kab tak aa sakta hai.please tell me sir

Bhuwan Mani said...

Only andolan, nd nothing.

Bhukamp said...

Kabhi is chilman se ye(sarkar)jhanke,
Kabhi us chilman se wo(court)jhanke,
Laga do aag chilman ko...na ye jhanke na wo jhanke.

rinku sharma said...

Add ki Koi news ho to btao bhaiyo.

gaurav kumar said...

Bharti ki pata nahi..