BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Thursday, 1 November 2012

UPTET - पहले प्रशिक्षु शिक्षक बनाये जाएंगे बीएड डिग्रीधारक - छह महीने की ट्रेनिंग के बाद होगी मौलिक नियुक्ति

नोट - यह खबर  http://www.only4uptet.wapka.mobi/index.html से ली गयी है पर जागरण की साईट पर इसकी कोई जानकारी उपलब्ध नही है ।इसकी सत्यता की जाँच आप खुद करें ।



UPTET - पहले प्रशिक्षु शिक्षक बनाये जाएंगे बीएड डिग्रीधारक - छह महीने की ट्रेनिंग के बाद होगी मौलिक नियुक्ति -
मेरिट में हाईस्कूल पर्सेंटेज के 10, इंटर के 20, स्नातक के 40 व बीएड के 30 फीसदी अंक जुड़ेंगे

- उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में होगा संशोधन जागरण ब्यूरो, लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के संचालित प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों के 72,825 रिक्त पदों पर अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों को चयन के बाद पहले प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त किया जाएगा। प्रशिक्षु शिक्षक के रूप में उन्हें 7300 रुपये प्रति माह मानदेय दिया जाएगा। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की मंशा के अनुसार प्रशिक्षु शिक्षक जैसे प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में छह महीने की ट्रेनिंग पूरी करते जाएंगे, वैसे-वैसे उन्हें स्थायी शिक्षक की मौलिक नियुक्ति दी जाती रहेगी। मौलिक नियुक्ति होने पर उन्हें स्थायी शिक्षक का वेतनमान मिलने लगेगाबेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी की अध्यक्षता में गुरुवार को विभाग के आला अधिकारियों की बैठक में इस पर सहमति बनी। प्रदेश में पहली बार प्रस्तावित इस व्यवस्था को अमली जामा पहनाने के लिए उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली, 1981 में संशोधन करके परिषदीय स्कूलों में प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त करने और ट्रेनिंग के बाद उन्हें मौलिक नियुक्ति देने का प्राविधान जोड़ा जाएगा। यह भी तय हुआ है कि टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों का प्रशिक्षु शिक्षक के तौर पर चयन करने के लिए अभ्यर्थियों के हाईस्कूल के प्राप्तांक प्रतिशत के 10, इंटरमीडिएट के 20, स्नातक के 40 व बीएड के 30 प्रतिशत अंकों को जोड़कर मेरिट तैयार की जाएगी। इसके आधार पर ही चयनित अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग का क्रम तय किया जाएगा। बेसिक शिक्षा विभाग की मंशा है कि इस व्यवस्था को लागू करने के लिए उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में नवंबर के अंत तक संशोधन किया जाए। फिर दिसंबर से टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारक अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये जाएंगे

Source - Jagran
1-11-2012

40 comments:

MANOJ MAU said...

पहले प्रशिक्षु शिक्षक बनाये जाएंगे बीएड
डिग्रीधारक
- छह महीने की ट्रेनिंग के बाद
होगी मौलिक नियुक्ति
- मेरिट में हाईस्कूल पर्सेंटेज के 10, इंटर के
20, स्नातक के 40 व बीएड के 30
फीसदी अंक जुड़ेंगे
- उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक)
सेवा नियमावली में होगा संशोधन
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : बेसिक
शिक्षा परिषद के संचालित प्राथमिक
स्कूलों में शिक्षकों के 72,825 रिक्त
पदों पर अध्यापक
पात्रता परीक्षा (टीईटी) उत्तीर्ण
बीएड डिग्रीधारकों को चयन के बाद
पहले प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त
किया जाएगा। प्रशिक्षु शिक्षक के रूप में
उन्हें 7300 रुपये प्रति माह मानदेय
दिया जाएगा। राष्ट्रीय अध्यापक
शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की मंशा के
अनुसार प्रशिक्षु शिक्षक जैसे प्रारंभिक
शिक्षा शास्त्र में छह महीने की ट्रेनिंग
पूरी करते जाएंगे, वैसे-वैसे उन्हें
स्थायी शिक्षक की मौलिक
नियुक्ति दी जाती रहेगी। मौलिक
नियुक्ति होने पर उन्हें स्थायी शिक्षक
का वेतनमान मिलने लगेगा।
बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद
चौधरी की अध्यक्षता में गुरुवार
को विभाग के आला अधिकारियों की बैठक
में इस पर सहमति बनी। प्रदेश में
पहली बार प्रस्तावित इस
व्यवस्था को अमली जामा पहनाने के लिए
उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक)
सेवा नियमावली, 1981 में संशोधन करके
परिषदीय स्कूलों में प्रशिक्षु शिक्षक
नियुक्त करने और ट्रेनिंग के बाद उन्हें
मौलिक नियुक्ति देने का प्राविधान
जोड़ा जाएगा। यह भी तय हुआ है
कि टीईटी उत्तीर्ण बीएड
डिग्रीधारकों का प्रशिक्षु शिक्षक के
तौर पर चयन करने के लिए अभ्यर्थियों के
हाईस्कूल के प्राप्तांक प्रतिशत के 10,
इंटरमीडिएट के 20, स्नातक के 40 व
बीएड के 30 प्रतिशत अंकों को जोड़कर
मेरिट तैयार की जाएगी। इसके आधार पर
ही चयनित अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग
का क्रम तय किया जाएगा। बेसिक
शिक्षा विभाग की मंशा है कि इस
व्यवस्था को लागू करने के लिए उप्र बेसिक
शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में
नवंबर के अंत तक संशोधन किया जाए।
फिर दिसंबर से टीईटी उत्तीर्ण बीएड
डिग्रीधारक अभ्यर्थियों से ऑनलाइन
आवेदन आमंत्रित किये जाएंगे।
इससे पहले यह तय हुआ था कि 72,825
पदों पर भर्ती के लिए टीईटी उत्तीर्ण
बीएड डिग्रीधारकों का मेरिट के आधार
पर चयन कर पहले उन्हें छह महीने
का विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण
दिया जाएगा। विशिष्ट
बीटीसी प्रशिक्षण पूरा करने के बाद
उन्हें नियुक्ति दी जाएगी। यह भी तय हुआ
था कि चयन की जो मेरिट बनेगी उसमें
अभ्यर्थियों द्वारा हाईस्कूल में
प्राप्तांक प्रतिशत के 10, इंटरमीडिएट
के 20 व स्नातक के 40 प्रतिशत
अंकों को जोड़ा जाएगा। इसके अलावा,
यदि अभ्यर्थी को बीएडके थ्योरी और
प्रैक्टिकल में प्रथम श्रेणी प्राप्त हुई है
तो उसे प्रत्येक के लिए 12-12, द्वितीय
श्रेणी के लिए 6-6 और तृतीय श्रेणी के
लिए 3-3 अंक मिलेंगे। मेरिट निर्धारण में
बीएड के अंकों को लेकर सवाल उठाये
जा रहे थे।
कहा जा रहा था कि श्रेणियों के आधार
पर मनमाने तरीके से अंक तय करना उचित
नहीं है।
विभाग को शिक्षकों की भर्ती में
नयी व्यवस्था लागू करने के बारे में इसलिए
सोचना पड़ा क्योंकि एनसीटीई ने बीएड
डिग्रीधारकों को शिक्षक नियुक्त करने के
लिए 31 मार्च 2014 तक का समय
दिया है। यदि अभ्यर्थियों का पहले
विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए चयन
करने के बाद उन्हें
नियुक्ति दी जाती तो प्रदेश में एक बैच में
अधिकतम 20,000
अभ्यर्थियों को ही ट्रेनिंग देने
की क्षमता है। चार बैच को ट्रेनिंग देने में
कम से कम दो वर्ष का समय लगता और तब
तक स्वीकृत समयसीमा बीत जाती। समय
बीतने के बाद
शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पाती।
दूसरा, जो नयी व्यवस्था सोची गई है,
उसमें मेरिट निर्धारण में बीएड के
अंकों को लेकर
उठायी जा रही आपत्ति भी दूर
हो सकेगी।

bhanu said...

Kash ye news sahi hoti

Abhishek Dubey said...

Blog editor ji B.ed 30% ko clear kare 20% theory ka aur 10% practical ka ya 10% theory aur 20% practicul ka

Abhishek Dubey said...

Blog editor ji B.ed 30% ko clear kare 20% theory ka aur 10% practical ka ya 10% theory aur 20% practicul ka

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

DOSTO,

IS GUNANK ME TET MERIT JODNE KA BHI SUJHAW AUR MANG KI JAYE TABHI POORI TARAH NYAY HO PAYEGA. COURT ME BHI ISKI DALIL DI JAYE.

bhanu said...

Kash ye. News sahi hoti

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

DOSTO,

IS GUNANK ME TET MERIT JODNE KA BHI SUJHAW AUR MANG KI JAYE TABHI POORI TARAH NYAY HO PAYEGA. COURT ME BHI ISKI DALIL DI JAYE.

sanjeev said...

another drama .very interesting .friends don t make delay. start making merit .phir se cut off jari karna suru karo .kam se ka isi se time pass hoga .ab batao minimum cut off kaha tak ja sakta hai .

kundan singh said...

G n

kundan singh said...

Very good news

Bharat said...

Gud news ab kuch time aachi neend ayegi, gudni8.

kundan singh said...

Good night

bhanu said...

Min.60 jayega

sanjeev said...

dear prabhat sir and friends good night .wish you a happy morning .

Girish Mishra said...

This is authentic news or another drama by education minister

sanjeev said...

blog editor g hurry up .aaj sare news paper mai news ki line lagi hai .please jaldi update kare wa filter hataye taki log apne vichar rakh sake .thanks .

Anil Thakur said...

Are yar ye log tamase karte rahenge inka kuchh hone wala nahi hai abhi inka ek sala bed kar raha hai uvske liye ye naya tet karane ke bad bharti karenge.

Abhay Yadav said...

abhi kuch ni hone wala...........sb kuch 2013 me ok.

Shivpratapsingh_orai said...

"5 NOVEMBER KO LUCKNOW CHALO"
ye sarkar Hume kahin ka nahi chodegi
plz jyada se jyada log Lucknow andolan m shamil hon.
B.Ed ko sirf 30% dena bilkul galat h aur nakal mafiyaon k hak m hai.
Agar B.Ed ko 30% dena h to TET ko bhi weitage diya jaye.
Ye sarkar bharti ko bar bar lamba talne k liye naye naye hathkande apna rahi h
aur UPTET 2012 ko karakar paisa kamana chahti h.
Plz sarkar ko iski aukat dikhane and bharti jaldi se jaldi karane k liye jyada se jyada log 5 NOVEMBER ko Lucknow pahunche plz.

amit srivastava said...

chalo mitro ab jakar mantri ji ki khopdi me ye khurafat aaya aur unhone iska nuksan ham tet friend ko hua...chalo mitro wait and watch....ek kahawan hai.ki. Wahi hota hai jo manjure s.p gov hota hai...g.m my dear

amit srivastava said...

chalo mitro ab jakar mantri ji ki khopdi me ye khurafat aaya aur unhone iska nuksan ham tet friend ko hua...chalo mitro wait and watch....ek kahawan hai.ki. Wahi hota hai jo manjure s.p gov hota hai...g.m my dear

amit srivastava said...

ja

Unknown said...

NOW THATS CLEAR
GOVT kisi ki nhi sochrhi, bs apna polytical ullu sidha karne ki mansha hai.1yr ho gya,aur kitna delay karna hai,?sab se jyada nuksan hum ko hi ho rha hai, please process start hona chahiye,result chahe jo ho,pass or fail,kam se kam 1 decision to aayega aur hum apne liye kuch better soch paynge,aise kuch ni ho payega,

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

DOSTO,
IS GUNANK ME TET MERIT JODNE KA BHI SUJHAW AUR MANG KI JAYE TABHI POORI TARAH NYAY HO PAYEGA. COURT ME BHI ISKI DALIL DI JAYE.

pavan KUMAR said...

बीएड डिग्रीधारक बनेंगे प्रशिक्षु शिक्षक
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के संचालित प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों के 72,825 रिक्त पदों पर अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों को चयन के बाद पहले प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त किया जाएगा। प्रशिक्षु शिक्षक के रूप में उन्हें 7300 रुपये प्रति माह मानदेय दिया जाएगा। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की मंशा के अनुसार प्रशिक्षु शिक्षक जैसे प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में छह महीने की ट्रेनिंग पूरी करते जाएंगे, वैसे-वैसे उन्हें स्थायी शिक्षक की मौलिक नियुक्ति दी जाती रहेगी। मौलिक नियुक्ति होने पर उन्हें स्थायी शिक्षक का वेतनमान मिलने लगेगा। बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी की अध्यक्षता में गुरुवार को विभाग के आला अधिकारियों की बैठक में इस पर सहमति बनी। प्रदेश में पहली बार प्रस्तावित इस व्यवस्था को अमली जामा पहनाने के लिए उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली, 1981 में संशोधन करके परिषदीय स्कूलों में प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त करने और ट्रेनिंग के बाद उन्हें मौलिक नियुक्ति देने का प्राविधान जोड़ा जाएगा। यह भी तय हुआ है कि टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों का प्रशिक्षु शिक्षक के तौर पर चयन करने के लिए अभ्यर्थियों के हाईस्कूल के प्राप्तांक प्रतिशत के 10, इंटरमीडिएट के 20, स्नातक के 40 व बीएड के 30 प्रतिशत अंकों को जोड़कर मेरिट तैयार की जाएगी। इसके आधार पर ही चयनित अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग का क्रम तय किया जाएगा। बेसिक शिक्षा विभाग की मंशा है कि इस व्यवस्था को लागू करने के लिए उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में नवंबर के अंत तक संशोधन किया जाए। फिर दिसंबर से टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारक अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये जाएंगे। इससे पहले यह तय हुआ था कि 72,825 पदों पर भर्ती के लिए टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों का मेरिट के आधार पर चयन कर पहले उन्हें छह महीने का विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण दिया जाएगा। विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण पूरा करने के बाद उन्हें नियुक्ति दी जाएगी। यह भी तय हुआ था कि चयन की जो मेरिट बनेगी उसमें अभ्यर्थियों द्वारा हाईस्कूल में प्राप्तांक प्रतिशत के 10, इंटरमीडिएट के 20 व स्नातक के 40 प्रतिशत अंकों को जोड़ा जाएगा। इसके अलावा, यदि अभ्यर्थी को बीएडके थ्योरी और प्रैक्टिकल में प्रथम श्रेणी प्राप्त हुई है तो उसे प्रत्येक के लिए 12-12, द्वितीय श्रेणी के लिए 6-6 और तृतीय श्रेणी के लिए 3-3 अंक मिलेंगे। मेरिट निर्धारण में बीएड के अंकों को लेकर सवाल उठाये जा रहे थे। कहा जा रहा था कि श्रेणियों के आधार पर मनमाने तरीके से अंक तय करना उचित नहीं है। विभाग को शिक्षकों की भर्ती में नयी व्यवस्था लागू करने के बारे में इसलिए सोचना पड़ा क्योंकि एनसीटीई ने बीएड डिग्रीधारकों को शिक्षक नियुक्त करने के लिए 31 मार्च 2014 तक का समय दिया है। यदि अभ्यर्थियों का पहले विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए चयन करने के बाद उन्हें नियुक्ति दी जाती तो प्रदेश में एक बैच में अधिकतम 20,000 अभ्यर्थियों को ही ट्रेनिंग देने की क्षमता है। चार बैच को ट्रेनिंग देने में कम से कम दो वर्ष का समय लगता और तब तक स्वीकृत समयसीमा बीत जाती। समय बीतने के बाद शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पाती। दूसरा, जो नयी व्यवस्था सोची गई है, उसमें मेरिट निर्धारण में बीएड के अंकों को लेकर उठायी जा रही आपत्ति भी दूर हो सकेगी।

Sachin Sharma said...

Ye sarkar july 2013 se pahle bharti prakriya shuru nhi karegi, kyoki goverment isme apna siyasi fayda dekh rhi hai. Bharti to 72825 logo ki hogi ,Lakin fayda lakhon logo ko hoga ,jiska cradit sarkar lena chahti hai.
Isliye sarkar roj ek nya shigoofa chodti hai - maslan * sarkar seedhi bharti karegi , * 6 month ke bad dobara avedan mange jayenge , *B.Ed. Ke marks jode jane ke sambandh me SCERT se dobara poonchna etc. Is tarah samay kheencha ja rha hai...

manoj said...

dimag kharab hua hai kya. tumhi logo ki vajah se bharti suru nahi ho pa rahi hai.tet ke piche pade ho. kya paise dekar jyada number laye ho kya tet me?

raju rajak said...

Dosto ab ak hi chara h ki hame ak vishal andolan lucknow m karna hoga tabhi kuch hashil hoga nahi to teacher ke sapne ko bhul jao jayda advise ki ab jarurat nahi h sirf andolan hona chahie up ke samsth tet pass s nivedan h ki ab apas m ladna chodo ye gov may 2013 tak talna chahti h uske bad phir achar shahita jago nahi to job ko bhul jao
Etawah. Bharthna . Auria mahewa ke dosto jago

pavan KUMAR said...

बीएड डिग्रीधारक बनेंगे प्रशिक्षु शिक्षक
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के संचालित प्राथमिक स्कूलों में शिक्षकों के 72,825 रिक्त पदों पर अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों को चयन के बाद पहले प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त किया जाएगा। प्रशिक्षु शिक्षक के रूप में उन्हें 7300 रुपये प्रति माह मानदेय दिया जाएगा। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) की मंशा के अनुसार प्रशिक्षु शिक्षक जैसे प्रारंभिक शिक्षा शास्त्र में छह महीने की ट्रेनिंग पूरी करते जाएंगे, वैसे-वैसे उन्हें स्थायी शिक्षक की मौलिक नियुक्ति दी जाती रहेगी। मौलिक नियुक्ति होने पर उन्हें स्थायी शिक्षक का वेतनमान मिलने लगेगा। बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी की अध्यक्षता में गुरुवार को विभाग के आला अधिकारियों की बैठक में इस पर सहमति बनी। प्रदेश में पहली बार प्रस्तावित इस व्यवस्था को अमली जामा पहनाने के लिए उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली, 1981 में संशोधन करके परिषदीय स्कूलों में प्रशिक्षु शिक्षक नियुक्त करने और ट्रेनिंग के बाद उन्हें मौलिक नियुक्ति देने का प्राविधान जोड़ा जाएगा। यह भी तय हुआ है कि टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों का प्रशिक्षु शिक्षक के तौर पर चयन करने के लिए अभ्यर्थियों के हाईस्कूल के प्राप्तांक प्रतिशत के 10, इंटरमीडिएट के 20, स्नातक के 40 व बीएड के 30 प्रतिशत अंकों को जोड़कर मेरिट तैयार की जाएगी। इसके आधार पर ही चयनित अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग का क्रम तय किया जाएगा। बेसिक शिक्षा विभाग की मंशा है कि इस व्यवस्था को लागू करने के लिए उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में नवंबर के अंत तक संशोधन किया जाए। फिर दिसंबर से टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारक अभ्यर्थियों से ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किये जाएंगे। इससे पहले यह तय हुआ था कि 72,825 पदों पर भर्ती के लिए टीईटी उत्तीर्ण बीएड डिग्रीधारकों का मेरिट के आधार पर चयन कर पहले उन्हें छह महीने का विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण दिया जाएगा। विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण पूरा करने के बाद उन्हें नियुक्ति दी जाएगी। यह भी तय हुआ था कि चयन की जो मेरिट बनेगी उसमें अभ्यर्थियों द्वारा हाईस्कूल में प्राप्तांक प्रतिशत के 10, इंटरमीडिएट के 20 व स्नातक के 40 प्रतिशत अंकों को जोड़ा जाएगा। इसके अलावा, यदि अभ्यर्थी को बीएडके थ्योरी और प्रैक्टिकल में प्रथम श्रेणी प्राप्त हुई है तो उसे प्रत्येक के लिए 12-12, द्वितीय श्रेणी के लिए 6-6 और तृतीय श्रेणी के लिए 3-3 अंक मिलेंगे। मेरिट निर्धारण में बीएड के अंकों को लेकर सवाल उठाये जा रहे थे। कहा जा रहा था कि श्रेणियों के आधार पर मनमाने तरीके से अंक तय करना उचित नहीं है। विभाग को शिक्षकों की भर्ती में नयी व्यवस्था लागू करने के बारे में इसलिए सोचना पड़ा क्योंकि एनसीटीई ने बीएड डिग्रीधारकों को शिक्षक नियुक्त करने के लिए 31 मार्च 2014 तक का समय दिया है। यदि अभ्यर्थियों का पहले विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए चयन करने के बाद उन्हें नियुक्ति दी जाती तो प्रदेश में एक बैच में अधिकतम 20,000 अभ्यर्थियों को ही ट्रेनिंग देने की क्षमता है। चार बैच को ट्रेनिंग देने में कम से कम दो वर्ष का समय लगता और तब तक स्वीकृत समयसीमा बीत जाती। समय बीतने के बाद शिक्षकों की नियुक्ति नहीं हो पाती। दूसरा, जो नयी व्यवस्था सोची गई है, उसमें मेरिट निर्धारण में बीएड के अंकों को लेकर उठायी जा रही आपत्ति भी दूर हो सकेगी।

raju rajak said...

Dosto ab ak hi chara h ki hame ak vishal andolan lucknow m karna hoga tabhi kuch hashil hoga nahi to teacher ke sapne ko bhul jao jayda advise ki ab jarurat nahi h sirf andolan hona chahie up ke samsth tet pass s nivedan h ki ab apas m ladna chodo ye gov may 2013 tak talna chahti h uske bad phir achar shahita jago nahi to job ko bhul jao
Etawah. Bharthna . Auria mahewa ke dosto jago

Avanish Mourya said...

is dhar pe merit banegi to jyada antar nahi hoga.jisja mert jitni thi lagbhag utni hi rahegi.bas theory first class ko nksaan hoga.aur bed ki theory me jo 55 se 59 percent k beech mehai use faida hoga.basbaaki sare log wase hi rahenge

SANTOSH MAURYA said...

Bhai log clear kro ki 5 ko lku me andolan hai ki nhi.

Halku said...

Is base se kewal 2004 k baad wale high merit v cbse walo ka fayada hoga dosto add aane par writ pe writ dalte raho kuki ye gov kewal kuch high merit walo k saath h or isme tet merit supportors ka dhyan nahi rakkha gaya jab acadamic walo ne hame bharti nahi hone diya to ham bi uneh hone nahi denge verna tet ka full wetage diya jaye justice tabi hoga.tet merit supportors jago ye gov hamare sath anyay kr rahi h sabi ka watage h to tet ka ku nahi

SANTOSH MAURYA said...

Lko chlo 5 ko.

kundan singh said...

Anand ji , how are you?

raju rajak said...

Sure 5 ko luck chalo

amit said...

Is base se kewal 2004 k baad wale high merit v cbse walo ka fayada hoga dosto add aane par writ pe writ dalte raho kuki ye gov kewal kuch high merit walo k saath h or isme tet merit supportors ka dhyan nahi rakkha gaya jab acadamic walo ne hame bharti nahi hone diya to ham bi uneh hone nahi denge verna tet ka full wetage diya jaye justice tabi hoga.tet merit supportors jago ye gov hamare sath anyay kr rahi h sabi ka watage h to tet ka ku nahi

prabhkar barnwal 9696243551 ghazipur said...

NEWS UPDATED-

JAISA KI KAL KI MEETING ME GUDANK SYSTEM ME FER BADAL KI BAT KI GAYI
ISKI AUTHENTICITY BILKUL CLEAR HAI.
LEKIN TET KO ARHATA SE PATRATA BANANE ME SARKAR KO 28 AUGUST SE 1 SEPTEMBER KA SAMAY(4 DIN)LAGA TO FIR AB NIYMAVALI ME SANSHODHAN KE LIYE 1 MAHINE KA TIME KYO?

SECOND THING- AGAR PRAKRIYA SHURU BHI HO JATI HAI TO SHABHI SELECTED 72825 KO TURANT TRAINING DI JAYEGI YE CLEAR NAHI HAI
AUR YE POSSIBLE BHI NAHI HAI
KAL KI MEETING ME IS BAAT KO SAF KIYA JA CHUKA HAI
JAISE JAISE SEAT KHALI HOGI WAISE WAISE TRAINING KARATE JAYENGE AUR JAB SAB 72825 KO TRAINING DE DENGE TAB JAKAR UNKO PERMANENT TEACHER MANA JAYEGA AUR SALERY SLIP BANEGI
AGAR SARKAR BHARTI KAR BHI LETI HAI TO YAKINAN SABKO TRAINING DEKAR PERMANENT KARNE ME 2014 TO AA HI JAYEGA
KYOKI SABKO PATA HAI SARKAR KE "HATH" ME AA JAYEGA ISKO POORA KARTE KARTE!

TAB TAK YA TO 7300 SE KAM CHALAO YA FIR APNI BARI KA WAIT KARO.

RAHA SAWAAL AB NAYI MERIT KA TO AS I DISCUSSED WITH MY SENIORS IS NEAR ABOUT FOR.........

GEN MALE 58.5+
GEN SCI 57+
OBC ART 55+
OBC SCI 52+
SC ART/SCI 46-44


AAPKE VICHARON KA SWAGAT HAI

Dharmendra Singh said...

.

Dharmendra Singh said...

.