BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Tuesday, 25 September 2012

UPTET - टीईटी - TET


                                                            CLICK HERE

53 comments:

Rahul verma said...

Hi

Rahul verma said...

Koi ye bata sakta hai ki kya highschool teacher vacency(L.T.Grade) bhi G.I.C. Teacher vacency (L.T.Grade) ki tarah hi fill ki jayengi ya fir T.G.T. Ke throw

Rkyadav said...

Tgt. Ki throw

Rkyadav said...

Tet sup. Jb lokpal pass ho jayega tb tet ki mang karna tb tk bhatta lo

Sachin Kumar said...

double bench me ki gayi special apeal ko ye kahte hue kharij kar diya gaya hai ki jo bhi aapko kahna hai vo phle single bench me kahe quoki vaha par abhi matter pending hai.

Sachin Kumar said...

slp 0825/2012
sujit singh vs up state
pl.ad.
shailendra srivastava
co.no.- 9 _ se no_13
judge_ agrwal
case me stay dene se mna kar diya .judge ne kha ki ek court me sunwai ho rahi hai to wanhi apni bat kahe. Case ko tandon ke court me jod diya gya hai.

Bhoopendra Singh said...

Hi

Bhoopendra Singh said...

24 sep. Ko double bench me sunbai nahi ho saki wo ab 26 sep. Ko hogi. Sabhi kucch 27 sep. Ko tandan ke faisle me hi hoga.

Bhoopendra Singh said...

Jo sarkar chahti hai vahi hota hai.

Udit Pal said...

कई के सपने हो गए चकनाचूर
हाईस्कूल, इंटर, बीए एवं बीएड में प्राप्त अंकों के योग से बनने वाली मेरिट सूची के आधारपर होगी।

72825 शिक्षकों की भर्ती गुणांक मेरिट पर

ye sab kya h madarchodo ek bat kro na canfuse karte ho salo

Dhiraj Kumar said...

pratibhao ki sahi parakh sp sarkar ko hi hai wah chawal ke ak Dana nahi apitu pure chawal ko dekhkar sahi nirnay leti hai rajaya ke hit me use sari niyukti accd adhar par karni chahia

SAGAR ETAWAH said...
This comment has been removed by the author.
bharat said...

B.ed theory 2nd, graduation less den 60 r totaly out of d race.

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

maro saalo ab new 2011-12 wale is vacancy me ghusenge jinhen ye sarkar nahin rok payegi aur flate merit bahut high ho jayegi.

is vacancy me 2007-08 se lekar 2011-12 tak k high meritians ghusenge aur un logon ki waat lagayenge jo academic academic ki rat lagaye the.

rakesh kumar said...

Göod evening

prabhkar barnwal 9696243551 ghazipur said...

Ab meri baat suno
jino logo ka ye kahna h ki ujala aur hindustan me galat nahi chhapta
to hakikat ye h ki wo paper acche se nahi padhte

raha sawaal bharti ke process ka to ek baat hamesha yaad rakhna

tum abhi banne ja rahe ho aur unke pas tumhari age se bhi jyada exp. Hai

bewkoofi karne se badhiya h ki just wait and watch for the govt. Action

Tarun Pandit said...

H.c ki lko bench ne vigyapan radd
karne ke sambandh me up gov. se 1
october tak jawab manga hai-etv
news

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

maro saalo ab new 2011-12 wale is vacancy me ghusenge jinhen ye sarkar nahin rok payegi aur flate merit bahut high ho jayegi.

is vacancy me 2007-08 se lekar 2011-12 tak k high meritians ghusenge aur un logon ki waat lagayenge jo academic academic ki rat lagaye the.


ACADEMIC SUPPORTERS NE APNI KABR KHUD HI KHOD LI HAI YADI WE EKJUT HOKAR TET MERITIANS KA SAATH DETE TO UNKA KABHI NA KABHI KALYAN JAROOR HOTA BUT ACADEMIC KE TRAC SE EK BAR BAHAR HONE K BAAD AAJ TAK KOI BHI CANDIDATE PATARI PAR WAPAS NAHI AA PAYA HAI

abhi bhi kuchh nahin bigda aur double bench ki taiyari suroo kar do sarkar ki baar baar badalti nitiyon par aawaj uthao wirodh pradarhan ke liye taiyar ho jao

old advt k anusar hi bharti me sabhi ka kalyan hai

Sushil said...

Eska jawab to kapil ki writ h

akshay kumar said...

I REQUEST ALL OF YOU NOT TO USE ABUSIVE LANGUAGE
ON THE BLOG PLZ. THANKS

prabhkar barnwal 9696243551 ghazipur said...

Ab suno blog ki kahaani
bahut se log blog par comment karte hain
bahut se log sirf dekhte hai

ap logon ko shayad pata nahi
ya kuchh genius bhaiyo ko pata bhi hoga
ek normal web site ki tarah yaha bhi count hota hai ki kitne logo ne site ko hit kiya

aur iska seedha profit jata hai blog ke malik ko
usko milte hai paid money
aur iasa har blog ke sath hota hai


gheek aise hi hota hai news paper ke sath
jab tak khabar masaledar nahi hogi
news bikegi nahi
isliye kahte hain ki khabar bikti hai

baki kisi ko adhikar nahi ki wo roumer failaye
news koi bhi ho authentic honi chahiye

Source me jab tak kisi govt. Authorised person ka naam na ho aap us par believe nahi kar sakte

desh aajad hai aur har kisi ko apni abhivyakti ka hak hai is liye koi bhi fayda utha sakta hai
shayad akhbar wale iska galat fayda utha rahe hai
kyoki ek purani kahawat hai

"BHAIYYA JO DIKHTA HAI WAHI BIKTA HAI"
Source me jab tak kisi govt.
skurce me

Rajkumar Sharma said...

Dosto meri date of birth 11-07-1990, to mai form bhar sakta hu,
btaeye please..
Muche sirf is time age ka dar hai..

Rajkumar Sharma said...

Please pray for me,dosto ki meri age puri ho jaye..
Please..
Mai bhut presaan hu..

Unknown said...

Plz help me, mera flat merit 238 gen art male h. kya kucch chance h? Plz plz plz plz .......anybody reply me

ved kumar said...

प्रिय टी ई टी पास साथियों,
बहुत से भाई ने टी ई टी 2011 की परीक्षा बी एड एपेयरिंग के आधार पर दी थी और उसमें पास हुए
क्या अब वे प्राथमिक अध्यापक बनने के पात्र है ?
यह प्रश्न कई लोगों को परेशान कर रहा है इस पर बेसिक शिक्षा परिषद्के एक वरिष्ट अधिकारी से बात की गई उन्होंने यह बात बताई है
''टी ई टी 2011 पास वही बी एड डिग्रीधारी प्राथमिक अध्यापक बनने के पात्र है जिनकी बी एड अंकतालिका शैक्षिक वर्ष 2011 (वर्ष अंकतालिका में अंकित होता है ) या इससे पहले की है ,
यदि कोई टी ई टी 2011 में पास है तथा उसकी बी एड अंकतालिका शैक्षिक वर्ष 2012 की है तो उसकी टी ई टी परीक्षा अवैध होगी और वह प्राथमिक अध्यापक नहीं बन सकता है ''

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

APPEAR WALE BHORM DALNE K LIYE 100% HAKDAR HAIN BECAUSE 1. SARKR NE APPEAR WALON SE TET K LIYE FORM LIYE HI KYON 2. AB UNKE PAS B.ED. KI BHI DEGREE HAI IS LIYE SARKAR NAHIN TO COURT SE WE APNA HAK LE HI LENGE.

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

APPEAR WALE FORM DALNE K LIYE 100% HAKDAR HAIN BECAUSE 1. SARKR NE APPEAR WALON SE TET K LIYE FORM LIYE HI KYON 2. AB UNKE PAS B.ED. KI BHI DEGREE HAI IS LIYE SARKAR NAHIN TO COURT SE WE APNA HAK LE HI LENGE

saurabh singh said...

sab appear walo ko aise mana karte hain jaise in k pass g.o aa gya special.q darte ho yaar humse.bus 77 he gunanak

Rahul said...

Pata nahi ab bhi log tet ke peeche kyo pade hai. Inka academic itna low ki tet ke alawa kisi se nahi hoga. Waise bhi uptet ka exam kitna easy tha agar ctet wale log tet se maang kare to jayej bhi lagta hai.

Rahul said...

Academic ke samay padai par dhayan kyo nhi diya.

sanjeev said...

prabhakar g i appreciate your view on print media .

sanjeev said...

prabhakar g i appreciate your view on print media .

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

rahul bhai yahi baat aap par bhi lagoo hoti hai ki jab exam saral tha to ap no. kam kyon laye iska matlab aap kewal kagji sher hain?

Rahul said...

Sunil sir me likhna bhool gaya ki mera tet me 106 academic 247 aur gunank 62 hai. Mera sayed tino base me se ho sakta hai. Par mujhe jaldi job chahiye.

saurabh singh said...

mr sunil.kya kewal ek exam student ka conclusion nikaal sakta h?mere 115 h t.e.t main bt right thng is always right

Rahul said...

Good Saurabh bhai

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

@ SAURABH JI

SABHI GOVT. JOBS ME EK HI EXAM HOTA HAI AUR EXAM SE HI APKI ACADEMIC KA CONCLUSION NIKALTA HAI

MY ACD 242 GUNANK 60.32 AND TET 117

nishant said...

kyu paresaan ho 2011-12 session wale kabhi bhi es process me samil nahi ho sakte, pehle to sarkar& diet en logo ko rokegi, ager 1% nahi roka vote ki khatir to inki naukari per hamesa court ki talwar latki rahegi, enki naukari enka janne wala kabhi bhi cheen sakta hai.enhone tet2011 cabinet ki permission na hote hue pass kiya tha jo hamesa galat rahega.

Rkyadav said...

Aag es liye bechain hain ki aap ka ac. Loose hai es liye tet pe jan chhidak rhe hain sunil je

Rkyadav said...

Aag=aap jiska jo thik hai usi ka sup. Ban ja rha hai but hona wahi hai jo ho rha hai

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

SARKAR NE ELLECTION ME TETIONS KO APNE IRADE JATA DIYE THE BUT BAHUMAT KA GHAMAND HAI BHAI SARKAR TETIONS KO 9 MAHINE SE TIL-TIL KAR MAR RAHI HAI BEWKOOF SAMAJH RAKHA HAI ISNE 270000 BEROJGARON KO ROJ NAYA NIYAM NAYI NITI USMANI JAISE CHAMCHE AUR KYA KARENGE U.P. KI BARBADI KE DIN SUROO HO GAYE HAIN NAKALCHIYON SE WOTE LENE WALON SE AUR KYA UMMID KI JA SAKTI HAI.

Rkyadav said...

Nitin jeek bat kahun- sunil je ki chle to wo kal hi tet ko hari jhandi de denge cabin. Ki baithak me

Rkyadav said...

Rahul aap safe ho

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

SARKAR NE KATHIT DHNDHLI KA BAHANA BANAKAR JIS TARAH SE MERIT BASE BADALNE KA DUSCHAKRA BUNA HAI WO INKI GIRI MANSIKTA KHUD HI UJAGAR KARTA HAI MATR VACANCY ME APNI MUHAR LAHWANE KA IGO HI 270000 TETIONS KO 9 MAHINE SE RULA RAHA HAI

Rahul said...

Thank you r k yadav ji

Rahul said...

Sarkari naukri result blogspot par hptet ke ware me dekho

saurabh singh said...

sunil g u mean jo humne 10th,12th,graduation b.ed main gain kiya wo bekaar h?merit kewal isi job main laga sakte hain wo b cheen lo.

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

GOOD NIGHT

SHIWAY said...

Kal high court me judge sahab ajaya lamba ne arvind ki purve vigyapan ko radd karni ki challanging yachika par rajya sarkar se 1 oct ko jabav talab kiya he -today amarujala

PIYUSH SINGH said...

नियुक्ति के लिए धरने पर बैठे बीटीसी प्रशिक्षु -
नियुक्ति के लिए धरने पर बैठे बीटीसी प्रशिक्षु
- बीटीसी 2004, उर्दू 2006 और विशिष्ट बीटीसी 07-08 के प्रशिक्षुओं ने उठाई मांग
- मुलायम सिंह यादव का घर घेरने की कोशिश, मांगें पूरी होने तक चलेगा धरना
जागरण संवाददाता, लखनऊ : बीटीसी 2004, उर्दू 2006 और विशिष्ट बीटीसी 2007-08 के प्रशिक्षुअ टीईटी की अनिवार्यता खत्म करने और नियुक्ति की मांग को लेकर एक बार फिर सड़क पर उतरे। हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी विधानभवन स्थित धरना स्थल पर ही अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए हैं। प्रदेश से हजारों की संख्या में प्रशिक्षु मंगलवार सुबह ही राजधानी पहुंच गए थे। प्रशिक्षुओं ने पहले मुलायम सिंह यादव का घर घेरने की कोशिश की लेकिन यहां से खदेड़े जाने के बाद विधानभवन के सामने धरना स्थल परबैठ गए हैं।
बीटीसी और विशिष्ट बीटीसी के प्रशिक्षु कई माह से मांग कर रहे हैं कि अध्यापक पात्रता परीक्षा से उनको दूर रखा जाए और जल्द से जल्द उनकी नियुक्ति की जाए। सरकार भी बीच-बीच में इन प्रशिक्षुओं को आश्वासन देती है और फिर भूल जाती है। लगातार इन प्रशिक्षुओं को आश्वासन दिया जा रहा है। वहीं प्रशिक्षुओं के मुताबिक बेसिक शिक्षामंत्री अपनी मजबूरी जाहिर कर रहे हैं। मंगलवार को प्रदेश के कोने-कोने से बड़ीसंख्या में प्रशिक्षु राजधानी पहुंचे। इनका प्रतिनिधि मंडल बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी से मिला। प्रशिक्षुओं के मुताबिक मंत्री का कहना है कि सचिव बेसिक शिक्षा ही विभाग के मुखिया है, उन्हीं का निर्णय माना जाएगा। बेसिक शिक्षा मंत्री सेजब निराशा हाथ लगी तो प्रशिक्षुओं ने समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह का आवास घेरने की कोशिश की लेकिन यहां से उन्हें पुलिस बल ने हटने को मजबूर कर दिया। प्रशिक्षु यहां से विधान भवन स्थित धरना स्थल पर आ गए। प्रशिक्षु सुरेश शुक्ला, लक्ष्मीकान्त, सुधीर, सुमन, सुधीर आदि का कहना है कि अब यहां से फैसला करके ही हटेंगे। जब तक राज्य सरकार उनके पक्ष में निर्णय नहीं ले लेती तब तक धरना समाप्त नहींकिया जाएगा।

PIYUSH SINGH said...

72,825 प्राइमरी शिक्षकों कीभर्ती का मामला, यूपी सरकार सेजवाब तलब
लखनऊ/ब्यूरो

प्रदेश में 72,825 प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती का मामला हाईकोर्ट पहुंच गया है। इन प्राइमरी शिक्षकों की भर्ती संबंधी राज्य सरकार की 31 अगस्त की विज्ञप्ति को हाईकोर्टकी लखनऊ पीठ में चुनौती दी गई है। कोर्ट ने इसमामले में राज्य सरकार से जवाब तलब किया है
याचिका में पिछली सरकार के दौरान निर्धारित नियमों के तहत प्राइमरी शिक्षकों की नियुक्ति किए जाने का आग्रह किया गया है। इस मामले में अगली सुनवाई एक अक्तूबर को होगी। न्यायमूर्ति अजय लांबा ने यह आदेश अरविंद कुमार सिंह व अन्य अभ्यर्थियों की याचिका पर दिया। कोर्ट ने सरकारी वकील को मामले में निर्देश प्राप्त कर पहली अक्तूबर को राज्य सरकार का पक्ष पेश करने को कहा है।
याचियों का कहना है कि सूबे की पिछली सरकार के दौरान 23/30 नवंबर 2011 को विज्ञापन के तहत इन प्राइमरी शिक्षकों का चयन टीईटी परीक्षा के प्राप्तांकों की मेरिट चयन प्रक्रिया अंतिम दौर में थी। लेकिन मौजूदा सरकार ने बेसिक शिक्षा कानून में संशोधन कर पहले जारी हो चुकी विज्ञप्तियों व आवेदनों को रद्द कर दिया। अब चयन का आधार शैक्षिक योग्यता के गुणांक को रखा गया है, जो उचित नहीं है।
याचियों ने कहा कि यह टीईटी जैसे प्रतियोगी परीक्षा के जरिए चयनित अभ्यर्थियों के हितोंके खिलाफ है। उधर, राज्य सरकार की तरफ से याचिका का विरोध किया गया। साथ ही इस संबंध में निर्देश प्राप्त करने को समय दिए जाने काआग्रह किया गया। इस पर कोर्ट ने सरकार का पक्ष पेश करने के लिए समय देते हुए अगली सुनवाई एक अक्तूबर को तय की है।

ved kumar said...

शिक्षक भर्ती प्रक्रिया म् बदलावपर जवाब तलब्
लखनऊ (एसएनबी)। इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ में टीईटी के तहत प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया में बदलाव किए जाने वाली सरकार की अधिसूचना को चुनौती दी गयी है। इस मामले में दायर याचिका पर पीठ ने राज्य सरकार से जवाब-तलब करते हुए अगली सुनवाई एक अक्टूबर को नियत की है।न्यायमूर्ति अजय लाम्बा की एकल पीठ ने यह आदेश याची अरविन्द कुमार व अन्य द्वारा दायर याचिका पर दिये हैं। याचिका प्रस्तुत कर कहा गया है कि प्रदेश की पूर्व सरकार ने प्राथमिक शिक्षकों के बहत्तर हजार पच्चीस पदों की भर्ती के लिए जो प्रक्रिया व मानकअपनाये थे, वर्तमान सरकार ने अधिसूचना जारी कर उसमें बदलाव कर दिया है। कहा गया कि इन पदों के लिए पहले टीईटी, बीएड व बीटीसी अर्हता थी। आरोप लगाया गया है कि वर्तमान सरकार ने इसे बदलकर हाईस्कूल, इण्टर व अन्य शैक्षिक योग्यता के आधार पर चयन का मानक कर दिया। यह भी कहा गया कि पहले कीप्रक्रिया के तहत इन शिक्षकों की भर्तियां शुरू की गयी थीं और चयन का अन्तिम पड़ाव चल रहा था कि इसी बीच नयी सरकार ने अधिसूचना जारी कर प्रक्रिया व अर्हता में बदलाव कर दिया जो कि नियमों के विपरीत था। यह भी कहा गया कि जब पिछली प्रक्रिया के तहत भर्तियां शुरू हो गयी थीं तो नये तरीके से पुन: भर्ती प्रक्रिया अपनाना संविधान के खिलाफ है। याचिका दायर कर नयी प्रक्रिया अपनाने संबंधी अधिसूचना की वैधता को चुनौती दी गयी है। अगली सुनवाई 1 अक्टूबर कोहोगी।
rastriya sahara

saurabh singh said...

q prabhat bhai tum accd support wale comments ko remove q kar dete ho?