BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Saturday, 29 September 2012

UPTET - बीटीसी धारक जल्द बनेंगे शिक्षक

UPTET - टीईटी - TET

UPTET - बीटीसी  धारक जल्द बनेगे शिक्षक  


 UPTET - बीटीसी धारक जल्द बनेंगे शिक्षक
•अमर उजाला ब्यूरो
लखनऊ। बीटीसी, विशिष्ट बीटीसी और उर्दू प्रवीणताधारियों को शिक्षक के रूप में भर्ती करने के लिए शासनादेश जारी कर दिया गया है। शासन ने इनके लिए पूर्व निर्धारित पदों की संख्या 50 घटा दी है। अब 9,820 पदों की जगह 9,770पर ही भर्ती होगी। मोअल्लिम वालों के संबंध में निर्णय नहीं हो पाया है। शासन ने सात अक्तूबर तक विज्ञापन निकालने और 31 दिसम्बर तक शिक्षक तैनाती की प्रक्रिया पूरी कर लेने का फैसला किया है।
प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा सुनील कुमार ने बीटीसी 2004 और विशिष्टबीटीसी 2004 से लेकर 2008 तक और इसी अवधि के उर्दू प्रवीणताधारियों को शिक्षक बनाने के लिए शासनादेश जारी कर दिया है। शासनादेश के अनुसार सात अक्तूबर तक विज्ञापन निकाला जाएगा और 31 दिसंबर तक सारी प्रक्रिया पूरी कर जाइन करा दिया जाएगा। शिक्षक बनने के लिए वे ही पात्र माने जाएंगे जो टीईटी पास होंगे। हालांकि इन्हें यह छूट दी गई है कि वे जिस जिले में चाहेंगे,वहां शिक्षक बनने के लिए आवेदन करसकेंगे। इसके लिए जिलेवार आवेदन लिए जाएंगे।
वहीं मोअल्लिम करने वालों को शिक्षक बनाने की प्रक्रिया फिलहाल अभी रुकी रहेगी। बेसिक शिक्षा विभाग ने इन्हें 2,911 पदों पर बिना टीईटी पास किए हुए नियमित शिक्षक बनाने के लिए न्याय विभाग से राय मांगी है


Source - Amar Ujala
29-9-2012

2 comments:

UPTET 2011 NEWS said...

शिक्षक बनने के लिए 21 से 40 वर्ष की आयु वाले पात्र--

लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए 21 से 40 वर्ष की आयु वाले पात्र होंगे। शिक्षक बनने से पहले टीईटी पास बीएड डिग्रीधारकों को 6 माह की विशिष्ट बीटीसी की ट्रेनिंग करनी होगी। इसके लिए 8 अक्तूबर तक विज्ञापन निकालकर 22 अक्तूबर से आवेदन लेने की तैयारी है। इस संबंध में शीघ्र ही शासनादेश जारी कर दिया जाएगा। विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए पहली बार जिलेवार ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे।
राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) से अगस्त 2010 में जारी अधिसूचना के मुताबिक टीईटी पास बीएड डिग्रीधारकों को प्राइमरी स्कूलों में सीधे शिक्षक रखने की अनुमति दी गई है।
राज्य सरकार इसके आधार पर यूपी में 72 हजार 825 शिक्षकों की भर्ती करना चाहती थी। पर टीईटी को लेकर चल रहे विवाद और आए दिन होने वाले मुकदमे को देखते हुए सीधे शिक्षक न रखकर पहले छह माह की विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग देने का फैसला किया गया है। इस बीच टीईटी को लेकर कोर्ट से स्थिति भी साफ हो जाएगी। इसलिए जिलेवार बिशिष्ट बीटीसी की ट्रेनिंग के लिए आवेदन लिए जाएंगे। इसके लिए 8 अक्तूबर तक विज्ञापन निकाल दिया जाएगा और 22 अक्तूबर से ऑनलाइन आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। आवेदन लेने की अंतिम तिथि 23 नवंबर होगी और दिसंबर से काउंसलिंग के साथ ट्रेनिंग प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।
•विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए जिलेवार लिए जाएंगे आवेदन
•ऑनलाइन आवेदन 22 अक्तूबर से लिए जाने की तैयारी

epaper.amarujala.com/svww_zoomart.php?Artname=20120930a_006151011&ileft=-5&itop=73&zoomRatio=182&AN=20120930a_006151011

epaper.amarujala.com/svww_index.php
by deepak k dwivedi

rampal singh said...

sc/st 50% tet pass wale sathiyo agar serkar vigyapan nikalne se pahle sc/st ko 50% marks par pass nahi karti h to ye bharti latkegi,kyoki esa kisi rajya m nahi hua h,or hamare all. h.c m kesh bhi chal rahe h , R.P.Singh