BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Monday, 17 September 2012

RAJASTHAN - ग्रेड थर्ड शिक्षक भर्ती: इस हफ्ते शुरू हो सकती हैं प्रथम लेवल की नियुक्तियां!

TET - टीईटी - TET

RAJASTHAN - ग्रेड थर्ड शिक्षक भर्ती: इस हफ्ते शुरू हो सकती हैं प्रथम लेवल की नियुक्तियां!




जयपुर.तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती में प्रथम लेवल के अभ्यर्थियों को नियुक्तियों का सिलसिला मंगलवार के बाद शुरू होने की संभावना है। मंगलवार को प्रथम लेवल के मामले की कोर्ट में सुनवाई है। वहीं, सेकंड लेवल भर्ती में वरीयता क्रम में ऊपर के स्थान पर आने वालों को इच्छित स्थानों पर पोस्टिंग देने संबंधी प्रावधान का पालन नहीं होने से कई अभ्यर्थी परेशान हैं।

इस बीच नियुक्ति से वंचित रहे लोगों में आरटीआई के तहत प्रश्नपत्र, ओएमआर शीट और उत्तर तालिका की प्रति उपलब्ध नहीं कराने से अभ्यर्थियों में रोष है। इस मामले को लेकर पंचायती राज विभाग और जिला परिषदों में जाने वालों को फटकार कर बाहर निकाला जा रहा है। ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव सी.एस. राजन ने बताया कि आरटीआई में प्रश्नपत्र, ओएमआर शीट और उत्तर कुंजी की प्रति नहीं देने के संबंध में आदेश जारी हो गए। अगर किसी मामले में कोर्ट से आदेश होगा तो उसे प्रश्न पत्र और उत्तर कुंजी दिखा दी जाएगी। प्रथम श्रेणी शिक्षकों के मामले में अदालत से मंगलवार को दिशा निर्देश मिलने के बाद नियुक्तियों का सिलसिला जारी होने की उम्मीद जताई जा रही है।


इस फैसले के बाद विभाग की ओर से जिला परिषदों की संस्थापना समितियों की बैठक की तिथि तय करेगी, जिसमें चयन प्रक्रिया पर मुहर लगने के बाद सूचियां अलग-अलग पंचायत समितियों को भेजी जाएंगी। सेकंड लेवल में इच्छित स्थानों पर पोस्टिंग नहीं देने को लेकर अभ्यर्थियों ने शिकायतें दर्ज कराईं। इनकी संख्या एक सौ से डेढ़ सौ तक बताई जा रही है।

विभागीय सूत्रों के अनुसार जिला परिषदों ने अपनी व्यवस्था के अनुसार अभ्यर्थियों को अलग-अलग पंचायत समितियों में भेज दिया। इसमें अभ्यर्थियों की ओर से भरे गए विकल्पों का ध्यान नहीं रखा गया। कुछ अभ्यर्थियों ने बताया कि जिला परिषद में शिकायत की तो पंचायती राज विभाग में जाने के लिए कहा गया। वहां आए तो यह कह कर लौटाया जा रहा है कि भर्ती जिला परिषद के स्तर पर हुई है, वहीं जाओ

Source - Bhaskar
17-9-2012

68 comments:

¥ SINGHANIYA said...

Mr. Prabhat Dixit Ji I'm 100 percent sure that this vacancy will be filled only by TET merit,
bas aaplog mere is authentic news ka thoda sa wait kijiye.

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

U r right.mr. shinghania sarkar ko gunank process se bharti karne me kam se kam 4 years ka samay lag sakta hai.example 2007,2008 vbtc vacancies abhi tak clear nahi ho payi hai.gunank me to ek hi gunank ke 500candidates honge to diet principle 25chayan suchi nikalenge jisme 4,5y kaa time lagega.

Nirbhay said...

Is bar kitne jile k liye form dalna padega.

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

Dixit sir gunank sys se vacancy fill karne me kitna samay lag sakta hai. apni bahumulya rai de.

Abhinay said...

ये सब कुछ राजनैतिक प्रतिदंदिता ही है सरकार ये नहीं चाहती की ये भर्ती मायावती द्वारा निकाली गयी कही जाए क्योंकि किसी प्रदेश में ७२८२५ लोगों को रोजगार देना किसी भी सरकार के सबसे जनहित कार्यों में से एक होता है और ये लाभ ना मायावती छोडना चाहती थी और ना अब अखिलेश चाहते हैं यही वजह है की अखिलेश इस भर्ती प्रक्रिया को समाजवादी चोला पहनाना चाहते हैं...
मैं ये नहीं कह रहा की भर्ती अकादमिक से नहीं होनी चाहिए पर मेरा यही कहना है की अखिलेश सरकारको राजनैतिक प्रतिदंदिता से ऊपर उठकर सामाजिक सरोकार की तरफ भी ध्यान देना चाहिए | मेहनत टेट वालो ने भी की है जैसे अकादमिक वालो ने की है इसलिए सरकार को टेट वालो का भी ध्यान रखते हुए टेट के अंको को भी मेरिट में शामिल करना चाहिए ताकि जनता के बीच उसकी छवि धूमिल न हो |टेट के अंको को शामिल करके वह जहाँ इस भर्ती प्रक्रिया को बिना रुकावट के सुचारू रूप से चला सकते हैं वही सभी वर्गों का ध्यान भी रख सकते हैं ............... ............... ............... ............... .........धन्यवाद

Abhinay said...

यदि यह प्रक्रिया शुरू हो गयी तो मुझे जितनी खुशी अकादमिक वालो की नियुक्ति से होगी उतना ही दुःख टेट मेरिट वालो का भी रहेगा . उसकीएक वजह ये है की जहाँ सरकार ७२८२५ पदों को भरने के लिए साफ़ सुथरे प्रतियोगी चाह रही है (टेट मेरिट ना बनाकर वो यही कहना चाह रही है ) ताकि शिक्षा का स्तर सुधरे वही उसकी दुगनी संख्या में शिक्षा मित्रों को प्राथमिक अध्यापक बनारही है जिनका न टेट में कुछ अच्छा है न अकादमिक में ....

Nirbhay said...

Vigyapan kab tak ane ki sambhawna hai...kisi ko koi idea hai..

Abhinay said...

अध्यक्ष-सदस्य के इंतजार में चयन प्रक्रिया लटकी
Updated on: Mon, 17 Sep 2012 09:06 PM (IST)
अमरीश शुक्ल, इलाहाबाद : प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक व अशासकीय महाविद्यालयों में शिक्षकों की कमी के प्रति शासन भी गंभीर नहीं दिख रहा है। शायद यही कारण है कि माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड व उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग में अध्यक्ष व सदस्यों के कई माह से पद रिक्त होने के बाद इन्हें भरा नहीं जा रहा है। अध्यक्ष व सदस्यों के पद रिक्त होने केकारण चयन प्रक्रिया ठप है। ऐसे में अशासकीय माध्यमिक विद्यालयों में प्रवक्ता, प्रिंसिपल व महाविद्यालयों में प्रवक्ता-प्राचा र्य केहजारों रिक्त पद नहीं भरे जा पा रहे हैं।
महाविद्यालयों व माध्यमिक विद्यालयों में पठन-पाठन प्रभावित न हो शासन ने इसी मंशा से नियुक्ति प्रक्रिया से रोक हटाई थी, पर शासन की मंशा पर पानी फिर रहा है। डॉ. उदयराज गौतम का 25जुलाई 2012 को निधन होने के बाद उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग में अध्यक्ष का पद रिक्त हो गया। इसकेबाद यहां अभी तक न तो सदस्यों के रिक्त तीन पद भरे गए हैं और न ही अध्यक्ष के पद पर किसी की नियुक्ति हुई है। कुछ ऐसा ही हाल माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड का भी है। पहले डॉ. आरपी वर्मा के अधिकार सीज करने के बाद चयन प्रक्रिया दो माह से ठप रही। इस्तीफा देने के बाद चयन बोर्ड नेउन्हें 30 अगस्त 2012 को रिलीव कर दिया। अध्यक्ष व छह सदस्यों केपद रिक्त होने के कारण यहा चयन प्रक्रिया ठप है।
--------------- -----
ये परीक्षाएं हैं लंबित
उच्च्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अशासकीय सहायता प्राप्त डिग्री वपीजी कॉलेजों में विज्ञापन 43 केतहत 32 प्रिंसिपल केपदों पर वर्ष 2008 में आवेदन मागा था। विज्ञापन संख्या 44 केतहत प्रवक्ता केलिए वर्ष 2008 में व प्रवक्ता केविज्ञापन संख्या 45 के लिए वर्ष 2009 में आवेदन पत्र मागे गए थे। विज्ञापन संख्या 44 व45 में कुल 1100 के लगभग पद हैं। इसके अलावा 600 प्रवक्ताओं का अधियाचन भी मिल चुका है पर कोरम के अभाव में सारी प्रक्रिया रुकी हुई है।
माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड ने प्रशिक्षित स्नातक व प्रवक्ताकेलगभग दो हजार पदों के लिए आवेदनमागे थे। आवेदन करने की अंतिम तिथि 16 जनवरी 2012 थी। चयन बोर्ड को प्रवक्ता व प्रशिक्षित स्नातक केलिए छह लाख केलगभग आवेदन पत्र मिले थे। इसकेअलावा प्रिंसिपल के भी लगभग एक हजार पदों पर चयन के लिए आवेदन पत्र मागे गए थे, जिस पर 70 हजार से अधिक आवेदन पत्र मिले हैं।

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

Abhinay ji,sarkaar ko apni chabi ke banne yaa bigadne kaa itna hikhayal hota to sarkar purane hi vigyapan par karya prarambh kar sakti thi .kaha ek taraf sakar mayawati ke vicharo ke vipreet karya kar rahi wahi apne man me bharti ko lamba khichne ki mansha bhi rakhati hai.in rajnitik gatividhiyo ke shikaar hum aur aap, kewal tet aur acd ke liye ladkar sarkaar ki mansha ko ,char chand laga rhe h .

deepak babu said...

hi friends

¥ SINGHANIYA said...

Aap log Sapa government ke jitne bhi agende hn dhyan se padhiye to abhi tak jitne bhi law inhone banaye hn sabhi me ant tak kitne sanshodhan kiye hn. Chahe wo berojgari bhatta ho, chahe wo kanya vidya dhan ho,
chahe laptop ya tablet ho,
chahe wo kisano ke liye furtilizers ho,
chahe wo bank debt ho.,
means itni lawless government history me kabhi nahi bani.
Ab aaplog dekhiyega 72825 prt recruitment ke liye ek aur cabinet meating Mr. Akhilesh Yadav ji bulane ja rahe hn jisme lagbhag sare sadasya TET merit ka favour karne ja rahe hn. Aur ye vacancy DECEMBER first week tak fillup ho jane ki 99 percent ummid hai.

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

72825 teacher,s ki bharti me lagne wala samay vibhinn process ke antargat.
1.tet merit 1years
2.acd merit 3years
3.gunank merit 4,5years
Bharti kis base par hona thik rahega?

deepak babu said...

blog editor ji sc me writ padi ya kharij ho gai.pls rply

deepakdwivedi said...

Is blog par koi dhudh ka dhula nhi hai, sab apne apne hito ko dhyan me rkh kr merit bna hai, lekin isme kisi ki koi galti nhi hai ye human nature hai, aur ye be true hai ki ye bharti kewal Gov k anusar hi hogi chahe kitna bhi prayas kr le kuch ko ye baat 9 mahine me samjh aa gye hogi aur kuch ko agle mahind tak aa jayegi. My opinion 100% bharti gov k according hogi, kuch ko bura bhi lagega but its true.

deepak babu said...

mere dosto mai galat hu to mujhe maf kare lekin tet merit walo ke sath bahut hi galat ho raha h.thats true.

Abhinay said...

विकलांगों को एससी/एसटी के समान आरक्षण
नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा है कि दिल्ली तकनीकी विश्वविद्यालय [डीटीयू] को भेदभाव से बचने के लिए प्रवेश में विकलांग उम्मीदवारों को अनुसूचित जाति व जनजाति के उम्मीदवारों के समान आरक्षण देना होगा।
न्यायालय ने कहा कि डीटीयू द्वारा विकलांग उम्मीदवारों को प्रवेश में मात्र पांच प्रतिशत छूट देना भेदभाव है, क्योंकि विश्वविद्यालय ने अनुसूचित जातिव अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवारों को 10 प्रतिशत छूट दी है। न्यायालय ने विश्वविद्यालय से कहा कि वह विकलांग उम्मीदवारों को भी इतनी ही छूट प्रदान करे।
कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश, न्यायमूर्ति एके सीकरी और न्यायमूर्ति राजीव सहाय एंडला की पीठ ने अपने फैसले में कहा कि विकलांगता से पीड़ित लोग यदि ज्यादा नहीं तो कम से कम एससी/एसटी के समान तो सामाजिक रूप से पिछड़े ही है, और इसलिए संवैधानिक प्रावधानों के अनुसारवे कम से कम एससी/एसटी उम्मीदवारों को दी गई छूट के समान छूट के हकदार है।
पीठ कानून से संबंधित एक प्रश्रन् को सुलझा रही थी, जिसमें आरक्षिण श्रेणी के तहत इंजीनियरिंग कॉलेज में विकलांग उम्मीदवारों के लिए प्रवेश में छूट की मात्रा तय करनी थी।
न्यायालय के समक्ष प्रश्रन् यह था कि क्या डीटीयू में बीटेक कार्यक्रम में प्रवेश के लिए विकलांग उम्मीदवारों को एससी/एसटी के समान छूट दिया जाए या नहीं।
न्यायालय का निर्देश 50 प्रतिशतविकलांग अनमोल भंडारी द्वारा दायर एक याचिका पर सामने आया है।
भंडारी ने डीटीयू के उन प्रावधानों को चुनौती दी थी, जिसमें एससी/एसटी उम्मीदवारों को आवश्यक न्यूनतम अहर्ता के अंकों में 10 प्रतिशत की छूट दी गई है, लेकिन विकलांग उम्मीदवारों के लिए यह छूट मात्रपांच प्रतिशत ही है।

deepak babu said...

gd night friends

Ramesh verma said...

Shinghania ji nirbhaya ji mujhe bhi tet merit ki hi ummed lag rahi hai annyatha bharti latkana taya hai phir inhe agli b s p govt. Hi kar sakegi.

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

Agli cabinet meeting jo bahut jald baithani padegi, usme bharti tet se hi karne ka prastaw pass hoga aur niymawali me 16th sanshodhan karne ke liye sarkar ko majbur hona padega.

yaspal singh kasana said...

U r right sandeepji mai ye dave ke sath kah rha hu bharti agar hogi to acd par nahi to bharti nahi hogi.tet merit spt sc nahi world coart me chale jaye esliye bhaio en chutiyo ke chakkar me mat pado ye bsp ke dalal hai khud to enka hoga nahi hum sab ka bhi nahi hone denge

SHIV KUMAR tomar said...

Tuk tuk muk lvnpjmgt tjmwjgjt

Bhupendra kumar said...

Amrit ji ye aap kis base pr kah rhe ho?

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

Jab acd se bharti ko duniya ki koi court nahi rok sakti to tumhari fat kyon rahi hai kasana ji ,

Vijay Sen Tripathi said...

amrit amrat pe kar aaye ho kya????

MANOJ MAU said...

gunak ka matter samaj se pare hai .

example --

10- 60
12- 60
ba/bsc - 60

b.ed theory 6 ( kyonki theory mein adhiktar log 60% se kam no pate hai.)
practical- 12 sabhi frist hote hai.

---------------------------
total - 6+12+24+6+12 == 60


compare with other -

10- 40%
12-40%
ba/bsc 60%

b.ed 12+12

total= 4+8+24+24==58

---------------------------

b.ed theory mein 12 ya 6 pana ricruitment ka aadhar hoga.

-----------------------------
1- ccs ,dbrau unversity practical 300 marks ka hota hai avarege banane ke liye theory mein marks 58 se 65 ke beech mein diye jate hain.

2- awadh , kanpur ,gorakhpur unversity mein bhi practical 300 ka hota hai par theory marks 50 se 60 ke beech diye jate hain.

3- vpspu (purvanchal university )
practical 400 no ka hota hai marks 48 se 55 ke beech diye jate hain.

theory marks har university avarege marking karke deti .sab ko 60% se 70% ke beech total (theory + practical) .

vpspu jahan 400 ka practical hai mein 85 % se 90% number diye jate hai agar theory mein kisi ke 45 % no. aane par 66% total marks ho jate hain .jabki kanpur university mein totak marks 55% se 65% ke beech rahte hain .

------------------------------
gunak ke karan ek 60% panewala 45% panewale ke barabar ho ja raha hai .
ye prakriya west up ke liye sahi hai.

baki ke liye sardard.

PRIYANKA said...

Manoj babu apna sar dard kyo badha rahe ho?

AMRIT LAL PATEL SARITA said...

Banda sahi kah raha h.

Unknown said...
This comment has been removed by a blog administrator.
NITIN SINGH said...

Manoj ji sahi keh rahe ho....

Unknown said...

Ye bhai amrit ji aap ke pass c.m ka phone aaya tha kya? Aap kyu sabko bhramit kr rahe ho?rojana sansodhan hoga ye koi aapke ghar ka diss h?

Unknown said...

Ye bhai amrit ji aap ke pass c.m ka phone aaya tha kya? Aap kyu sabko bhramit kr rahe ho?rojana sansodhan hoga ye koi aapke ghar ka diss h?

Vijay Sen Tripathi said...

Tet ke ek bande ne sabki phad ke rakh di hai darrrrrrrrrrrrrrrrrrrrrr lag rahaaaaaaaaaaaaaa haiaaaaaa
gold does not fear from flame

Pradeep Patel said...

Tet se hi hogi bharti.

Pradeep Patel said...

Tet merit pr hi hogi bharti

Vijay Sen Tripathi said...
This comment has been removed by a blog administrator.
Unknown said...

G.n.frds

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

gunak system me kitna bada chhed hai aap is example se samajh sakte hain

example --

10- 60
12- 60
ba/bsc - 60

b.ed theory 6 ( kyonki theory mein adhiktar log 60% se kam no pate hai.)
practical- 12 sabhi frist hote hai.

---------------------------
total - 6+12+24+6+12 == 60


compare with other -

10- 40%
12-40%
ba/bsc 60%

b.ed 12+12

total= 4+8+24+24==58
hahahaha....

yani 2 degree third wala candidate 1 degree frist wale se aage hai candidate

wha bhai wah gunank system!!!!!!!!

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

gunak system me kitna bada chhed hai aap is example se samajh sakte hain

example --

10- 60
12- 60
ba/bsc - 60

b.ed theory 6 ( kyonki theory mein adhiktar log 60% se kam no pate hai.)
practical- 12 sabhi frist hote hai.

---------------------------
total - 6+12+24+6+12 == 60


compare with other -

10- 40%
12-40%
ba/bsc 60%

b.ed 12+12

total= 4+8+24+24==58
hahahaha....

yani 2 degree third wala candidate 4 degree frist wale se aage hai candidate

wha bhai wah gunank system!!!!!!!!

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

gunak system me kitna bada chhed hai aap is example se samajh sakte hain

example --

10- 60
12- 60
ba/bsc - 60

b.ed theory 6 ( kyonki theory mein adhiktar log 60% se kam no pate hai.)
practical- 12 sabhi frist hote hai.

---------------------------
total - 6+12+24+6+12 == 60


compare with other -

10- 40%
12-40%
ba/bsc 60%

b.ed 12+12

total= 4+8+24+24==58
hahahaha....

yani 2 degree third wala candidate 4 degree frist wale se aage hai

hahahahaha......

wha bhai wah gunank system!!!!!!!!

bigest jock of year for tetions.

Unknown said...

Are vinay tripathi mera tet merit gen art male 123, acd merit 261 aur gunak 69h .tum aur sdm apni socho. mera kaise bhi ho jayega. Mai chahta hu bharti jaldi ho.... I m too tet merit supporter but mere liye sab equal h chahe merit kaise bhi bane...

sunil kumar tiwari sunlkmrr@gmail.com said...

gunak system me kitna bada chhed hai aap is example se samajh sakte hain

example --

10- 60
12- 60
ba/bsc - 60

b.ed theory 6 ( kyonki theory mein adhiktar log 60% se kam no pate hai.)
practical- 12 sabhi frist hote hai.

---------------------------
total - 6+12+24+6+12 == 60


compare with other -

10- 40%
12-40%
ba/bsc 60%

b.ed 12+12

total= 4+8+24+24==58
hahahaha....

yani 2 degree third wala candidate 4 degree frist wale se aage hai

hahahahaha......

wha bhai wah gunank system!!!!!!!!

bigest jock of year for tetions.

it's totally challengable in court.

Unknown said...

Are vinay tripathi mera tet merit gen art male 123, acd merit 261 aur gunak 69h .tum aur sdm apni socho. mera kaise bhi ho jayega. Mai chahta hu bharti jaldi ho.... I m too tet merit supporter but mere liye sab equal h chahe merit kaise bhi bane...

Unknown said...

Gunak farmate is the best for all board and university's students.....aur ant me yahi formula lagu hoga dekhna aap log....gn

RAKESH said...

YE JO COURT JANE KI KI BAT KER RAHE HAI VO TET FAIL HAI VO YE NAHI CHAHTE KI BHARTI HO

arun maddhesiya said...
This comment has been removed by a blog administrator.
arun maddhesiya said...
This comment has been removed by a blog administrator.
arun maddhesiya said...
This comment has been removed by a blog administrator.
Abhinay said...

टीईटी के लिए ऑनलाइन आवेदन की तैयारी
लखनऊ। शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) 2012 के लिए ऑनलाइन आवेदनलेने की तैयारी है। परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने इस संबंध में शासन को प्रस्ताव भेज दिया है। हालांकि, इस पर अंतिम निर्णय बेसिक शिक्षा मंत्री रामगोविंद चौधरी लेंगे। इस संबंध में शीघ्र ही शासनादेश जारी करने की तैयारी है, ताकि टीईटी के लिए आवेदन लेने की प्रक्रिया शीघ्र शुरू की जा सके।
बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षकों की भर्ती के लिए टीईटी पास करना अनिवार्य कर दिया गया है। यूपी में पहली बार टीईटी 2011 में माध्यमिक शिक्षा परिषद ने कराया था। परीक्षा में धांधली होने के बाद तत्कालीन माध्यमिक शिक्षा निदेशक संजय मोहन को गिरफ्तार कर लिया गया था। टीईटी हर साल आयोजित कराई जानी है। इसलिए इस बार इसके आयोजन की जिम्मेदारी परीक्षा नियामक प्राधिकारी इलाहाबाद को दी गई है। प्राधिकारी चाहता है कि इस बार परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन लिया जाए, लेकिन इस पर अंतिम निर्णय विभागीय मंत्री को लेना है।
टीईटी प्रमाण पत्र की वैद्यता पांच साल की होगी। टीईटी पास करनेवाला ही शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन करने को पात्र होगा। टीईटी प्राथमिक और उच्च प्राथमिक कक्षाओं के लिए अलग-अलग होगी। परीक्षा में शामिल होने वाले सामान्य और पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थियों से 500 और अनुसूचित जाति व जनजाति के अभ्यर्थियों से 250 रुपये शुल्क लिया जाएगा। नि:शक्तों से पूर्व की भांति इस बार भी कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जनपद स्तर पर गठित होने वाली कमेटी परीक्षा केंद्रों का निर्धारण करेगी। इसमें संयुक्त शिक्षा निदेशक सदस्य सचिव होंगे और डायट प्राचार्य, एडी बेसिक व बीएसए सदस्य होंगे। J

Abhinay said...

माध्यमिक विद्यालयों में हुई 68 अध्यापकों की तैनाती
Updated on: Tue, 18 Sep 2012 01:01 AM (IST)
संवाददाता, ग्रेटर नोएडा : माध्यमिक शिक्षा परिषद के छात्रों के लिए अच्छी खबर है। शिक्षकों की कमी दूर करने के प्रयास तेज कर दिए गए हैं। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयनआयोग से 68 अध्यापकों की गौतमबुद्ध नगर में तैनाती हुई है। यूपी बोर्ड के हाईस्कूल व इंटर कॉलेज लंबे समय से शिक्षकों का टोटा झेल रहे हैं। नए अध्यापकों की तैनाती से छात्रों को बड़ी राहत मिलेगी।
इस वर्ष जुलाई से पहले उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयनआयोग से जिले में 46 नए अध्यापकोंकी नियुक्ति हुई थी। इस वर्ष अब तक 22 अध्यापकों की नियुक्ति हो चुकी है, जबकि लगभग इतने ही अन्य अध्यापक आने वाले हैं। कई वर्ष सेजिले के वित्तपोषित इंटर कॉलेज अध्यापकों की कमी झेल रहे थे। करीब 30 फीसद शिक्षकों के स्थान खाली चल रहे थे। इसकी सूचना अधिकारियों ने शासन को भेजी थी। रिक्त पदों पर नियुक्ति की हरी झंडी मिलने के बाद शिक्षकों की तैनाती का सिलसिला जारी है। हालांकि, अब भी विद्यालयों को काफी अध्यापकों की जरूरत है। विभागीय आंकड़ों पर गौर करें तो प्रत्येक वर्ष करीब 40 से 50 अध्यापक सेवानिवृत्त होते हैं। इनकी भरपाई करने में शासन को काफीवक्त लग जाता है। इसकी वजह से साल दर साल रिक्त सीटों की संख्या बढ़ती चली जाती है। अधिकतर विद्यालयों में विषयवार प्रवक्ता वर्ग के पद खाली हैं, खासकर गणित, अंग्रेजी और विज्ञान के। सूत्र बताते हैं कि अधिकतर विद्यालय में अस्थाई तौर पर शिक्षकों को नियुक्त कर काम चलाया जा रहा है। जिला विद्यालय निरीक्षक ज्योति प्रसाद का कहना है कि विद्यालय वार रिक्त पदों कीसूची के आधार पर नए अध्यापकों की तैनाती की जा रही है। उम्मीद है कि जल्द ही कुछ और शिक्षक जिले को मिलेंगे।

Abhinay said...

प्रमाणपत्रों के सत्यापन में भी फर्जीवाड़ा
Updated on: Mon, 17 Sep 2012 11:06 PM (IST)
कार्यालय संवाददाता, हाथरस : डा. बीआर अंबेडकर विश्वविद्यालय की कार्य प्रणाली पहले से ही संदेह के घेरे में रही है, अब यहां बरती गई अनियमितताएं उजागर हो रही हैं। ताजा मामला हाथरस डायट से संबंधित है। डायट से सत्यापन को भेजे गए प्रशिक्षुओं के प्रमाण पत्रों पर फर्जीवाड़ा हुआ है। सत्यापन को भेजे गए 18 मामलों मेंअधिकांश पर अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर कर सत्यापन रिपोर्ट भेज दी गई। डायट प्राचार्य ने विवि की सत्यापन प्रक्रिया पर एतराज किया तब सत्यापित होकर यहां आए इन मामलों में विश्वविद्यालय से निर्गमन पुष्टि मांगी गई है।
दरअसल, डायट द्वारा यहां आए समस्तप्रशिक्षुओं के प्रमाण पत्रों कासत्यापन विश्वविद्यालय से कराया जाता है। सत्र 2007-08 में विशिष्ट बीटीसी के स्नातक व बीएड संबंधी करीब 18 मामले डायट प्राचार्य द्वारा सत्यापन के लिएविश्वविद्यालय भेजे गए थे। जानकारी के मुताबिक गत माह विश्वविद्यालय द्वारा इन मामलों में सत्यापन रिपोर्ट लगाकर डायट पर भेज दी गई। डायट प्राचार्य हरवंश सिंह ने बताया कि विश्वविद्यालय से जो सत्यापन रिपोर्ट मिली थी, उस पर कुछ संदेह लगा। इसीलिए दो हफ्ते पूर्व प्रवक्ताओं को निर्गमन पुष्टि केकराने के लिए विश्वविद्यालय भेजागया था। विश्वविद्यालय में प्रवक्ताओं से कहा गया कि इसमें काफी समय लगेगा, इसीलिए वह पत्र छोड़ जाएं। निर्गमन पुष्टि कराने के बाद रिपोर्ट भेज दी जाएगी। उन्होंने बताया कि रिपोर्ट मिलनेपर फर्जी मामले पाए गए तो निश्चितकार्रवाई होगी। इनमें से कोई अगर नौकरी भी कर रहा होगा तो कार्रवाईके लिए बीएसए को लिखा जाएगा। सूत्र बताते हैं कि सत्यापन को भेजे गए प्रमाण पत्रों में विवि कर्मचारियों ने खेल किया है। जो सत्यापन रिपोर्ट यहां डायट पर भेजी गई थी, उस रिपोर्ट पर विवि अधिकारियों के फर्जी हस्ताक्षर की बात सामने आई है, क्योंकि विश्वविद्यालय में उनका कहीं रिकॉर्ड नहीं है। फर्जीवाड़े का यह मामला खुलने के बाद विवि की सत्यापन प्रक्रिया पर सवाल उठ खड़े हुए हैं। हाथरस में ही पिछले कुछ समय में फर्जी शिक्षकों के कईमामले प्रकाश में आ चुके हैं। अधिकांश मामलों में एफआईआर तक दर्ज हुई है।

Abhinay said...

प्रवक्ता भर्ती परीक्षा में 609 हुए शामिल
कई को जारी हो गए थे दो प्रवेश पत्र
इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश लोक सेवाआयोग की ओर से सोमवार से शुरू राजकीय महाविद्यालयों में प्रवक्ता भर्ती परीक्षा-2007 में 609 अभ्यर्थी शामिल हुए। पहले दिन इतिहास और बीएड विषय के अभ्यर्थियों की परीक्षा थी, जिसके लिए कुल 1926 परीक्षार्थियों को प्रवेश पत्र जारी हुए थे। खास यह कि इनमें अधिकतर अभ्यर्थी दो-दो प्रवेश पत्र लेकर परीक्षा देने पहुंचे थे। 2007 में विज्ञापित इन पदों के लिए कानूनी अड़चन के कारण एक साल तक परीक्षा नहीं हो पाई। साथ में 2008 में संशोधित विज्ञापन भी जारी करना पड़ा लेकिन विज्ञापन में स्पष्ट निर्देश नहीं होने के कारण 2007 में आवेदन करने वाले कई अभ्यर्थियों ने दोबारा फार्म भर दिया। ऐसे आवेदकों को दो-दो प्रवेश पत्र जारी कर दिए गए थे। हालांकि उन्हें किसी एक प्रवेश पत्र के आधार परीक्षा में शामिल कराया गया। परीक्षा के लिए आयोग के अलावा जीआईसी और प्रयाग महिला विद्यापीठ को केंद्र बनाया गया था। मंगलवार को प्राचीन इतिहास, कम्प्यूटर साइंस और माइक्रो बायोलॉजी विषय के अभ्यर्थियों कीपरीक्षा होगी।
इलाहाबाद। मानदेय के रूप में निर्धारित साढ़े तीन हजार रुपये भी शिक्षामित्रों को नसीब नहीं हो रहे हैं। आलम यह है कि शिक्षामित्रों को अपनी गृहस्थी चलाने के लिए कर्ज लेना पड़ रहा है। शिक्षामित्र संघ ने सोमवार को बैठक कर अधिकारियों के गैरजिम्मेदाराना रवैये पर नाराजगी जताई। जिलाध्यक्ष वसीम अहमद का कहना है कि शासन द्वारा मानदेय का बजट आवंटित किया जा चुका है। लेकिन कोषागार कार्यालयद्वारा बजट में आपत्ति लगाकर कंप्यूटर में फीड नहीं कराया गया है।

GC BHARTI said...

Good morning to all my dear frnds.

Unknown said...
This comment has been removed by a blog administrator.
Vijay Sen Tripathi said...

unknown maa teri SDM ne chodi hai to baap tera hua. whore son

Vijay Sen Tripathi said...

ziski maa chudi hogi usko jyada nafrat hoti hai.

DINESH RAJPUT said...

bhai bhai ki maa bahan and baap ki ladai me jarur ye blog band ho jayega jaise ki wo muskan ka blog jyada discussion par band ho jata hai comment publish nhi ho paate hai

to lge rho ek dusre ke maa bahan karne par

bharat said...

pahle kuch kahte the ki bharti Hc krayega ab vha daal nhi gli to kahte hai SC jakr bharti krayege lekin vha bhi yahi haal hoga jo Hc me hua hai, kyu k ab gov ka paksh kafi majbot hai use vigyapn hi radd kr diya hai aur nye vigyapn k liye sansodhan bhi kr diya hai, lekin abhi sayad inko samjhne se koi fayda nhi, sc jakr khud hi samjh jayege.. Best of luck suprem court jane walo k liye...

Priti Singh said...

Hi good morning

Priti Singh said...

Ye btc2012 ka vigyapan kab tak aa raha hai.? Kuchh samajh me nahi aa raha hai. Abhinay ji and others Kisi ko es subject me kuch malum ho to please batayen.....

arun maddhesiya said...

priti ji mere 65.08 mere kya chance hai obc. Science

irshad ahmad said...

kiya koi sarkar chahegi k bharti wo kr or naam uski aposite parti ka ho to logo ko gumrah mat kro falto ki afwah mat failao ab koi tet ko lekr meeting nahi hogi dosto ab hamara ek hi base hona chahiye wo bharti base to afwaho se savdhan.

irshad ahmad said...

akhilesh sarkar is samay majboot posission me h or is bharti me uske banaye hue niymo ko hari jhandi har jagah se mil jayegi chahe wo sc hi kiyo na ho or rahi baat tet marit ki to in sabko ye nahi maloom k ek eligibilty test bharti ka manak nahi ban sakta ha agar state goverment chahe to wo us test k kuch weitage de sakti h to faltoo me time kharab mat kro bharti hone do.

Unknown said...
This comment has been removed by a blog administrator.
RAKESH said...

'NEW TET ISI SAL HO RAHI HAI HOSAKTA HAI IS BAR ONLINE FORM MAGE JAYE

PIYUSH SINGH said...

Frnds mai abhi SDM ke blog par visit kiya. Waha par bade hi pakau log hai. 1 minut ki bat ko 1 ghante me explain karte hai. Unke liye abhi tak kuchh nahi huaa. Abhi tak TET merit ke intejar me baithe hai. Shyam dev to itna darta hai ki uske again me kahi gai bat ka tark na dekar us comment ko remove kar deta hai and kahta hai ke sirf uski baat ko pasand karne wale hi us blog par visit kare. And usne paisa kamane ka achha tarika nikal liya hai. Sahi kaha gaya hai" murkho ke paas dhan (paisa) hoga to chalak log bhookhe nahi mar sakte. Like as SDM.

Unknown said...

Hanuman ji kaha g aap

rampal singh said...

sc/st 50% wale sathiyo utho jago hame apna hakk chhinna h 21 sep.ko allahabad challo vo kamin hi honge jo apne gharon m chhupke rahenge abe kutto serdil ki tarah jina sikho . R.P.Singh 09878947213 not..... sathio mo.no.ke age 0 jarur lagana kuchha sathi coment pe mo.no.galat bata rahe h no. galat nahi h.

rampal singh said...

sc/st 50% wale sathiyo ap loge kebal thoda sa sath de do age hc,sc badhana hamara kam h kiyonki apna hukk lena koi gunah nahi h. R.P.Singh. 09878947213