BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Friday, 28 September 2012

UPTET - अक्टूबर से होगी एक लाख प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती

UPTET - टीईटी - TET

UPTET - अक्टूबर से होगी एक लाख प्राथमिक शिक्षकों की भर्ती


जागरण संवाददाता, इलाहाबाद : प्रदेश में लगभग एक लाख शिक्षकों की भर्ती का रास्ता साफ हो गया है। आठ अक्टूबर तक भर्ती संबंधी विज्ञापन जारी कर दिए जाएंगे। लखनऊ में आयोजित बेसिक शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों की बैठक में यह निर्णय लिया गया है। बैठक में शामिल रहे मंडलीय सहायक बेसिक शिक्षा निदेशक महेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि सरकार का लक्ष्य है कि दिसंबर से पूर्व प्रदेश में शिक्षकों की भर्ती पूरी कर ली जाए
लखनऊ में हुई बैठक में प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा समेत तमाम उच्च अधिकारी शामिल हुए। बैठक में तय हुआ कि इस बार भर्ती के लिए जिलेवार ऑनलाइन आवेदन स्वीकार किए जाएंगे। इसके लिए विज्ञापन में वेबसाइट का नाम भी जारी किया जाएगा। वेबसाइट से चालान फार्म का प्रिंट आउट लेकर चालान जमा करना होगा। उसके बाद बाकी प्रक्रिया भी ऑनलाइन की जाएगी। चालान फार्म नंबर ही अभ्यर्थी की लॉग इन आइडी होगी। अभ्यर्थियों के आवेदन करने के बाद मेरिट सूची भी ऑनलाइन ही जारी की जाएगी। उर्दू भाषा के शिक्षकों के लिए आयोजित की जाने वाली दक्षता परीक्षा के लिए वेबसाइट पर ही प्रवेश पत्र भी जारी किए जाएंगे। प्रवेश पत्र में परीक्षा की तिथि और परीक्षा केंद्र का पता होगा। ऑनलाइन आवेदन की संभावित तिथि 22 अक्टूबर से 23 नवंबर है। शिक्षकों की भर्तियां उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा कर्मचारी चयन नियमावली 1980 के तहत की जाएंगी। इसी के तहत प्रदेश में अंतरजनपदीय तबादलों से आए शिक्षकों को भी तैनाती दी जाएगी
अब समायोजन भी होगा ऑनलाइन
बेसिक शिक्षा विभाग के विवादित मसले समायोजन को विवाद मुक्त बनाने के लिए विभाग ने तैयारी शुरू कर दी है। अगले साल से ऑनलाइन आवेदन और समायोजन सूची जारी की जाएगी। गौरतलब है कि जिले में समायोजन के विवाद के चलते शिक्षकों और जिला बेसिक शिक्षा विभाग के बीच महीनों तनातनी रही। बेसिक शिक्षा निदेशक के निर्देश पर सचिव ने समायोजन से पूर्व की स्थिति बहाल करने की घोषणा की थी

Source - Jagran
28-9-2012
************

According to this news- it is a good news for uptet candidates that advertisement is coming up till 8 oct 2012 for 72825 and 9820 basic teachers.

23 comments:

SUNIL SAROWAR said...

VERY GOOD AND HOT NEWS.

amit kumar shukla said...

are yeh har baithak main pad kaise badh rahen hain //////
//////////////////////////////???????????????????????????????

amit kumar shukla said...

72825 + 9820 aur aB SIDHE 1 LAKH

ved kumar said...

पहले ट्रेनिंग, फिर नियुक्त होंगे शिक्षक
•अमर उजाला ब्यूरो
लखनऊ। टीईटी पास बीएड डिग्रीधारकों को शिक्षक बनाने कीप्रक्रिया में बदलाव किया गया है। चयन होने के बाद डिग्रीधारकों को पहले ट्रेनिंग दी जाएगी, फिर शिक्षक के रूप में नियुक्त किए जाएंगे। 72,825 पदोंके लिए सात-आठ अक्तूबर तक विज्ञापन निकाला जाएगा और नवंबर से इनकी ट्रेनिंग शुरू कर दी जाएगी।
राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद ने 31 मार्च 2014 तक बीएड डिग्रीधारकों को शिक्षक बनाने कीअनुमति दे दी है। पहले चरण में 72,825 पदों पर भर्ती होनी है। शुक्रवार को शासन स्तर पर उच्चाधिकारियों की बैठक में टीईटी पास बीएड डिग्रीधारकों की शिक्षक भर्ती प्रक्रिया पर विचारहुआ। तय हुआ कि चयनित आवेदकों को पहले छह महीने की विशिष्ट बीटीसी की ट्रेनिंग दी जाएगी, फिर उन्हेंशिक्षक नियुक्त किया जाएगा।
इसके पहले चयनित आवेदकों को सीधे स्कूलों में शिक्षक नियुक्त करनेकी बात थी, ट्रेनिंग बाद में दी जानी थी। शासन सात-आठ अक्तूबर तक विज्ञापन निकाल कर आवेदन संबंधी प्रक्रिया जल्द से जल्द पूरा करा लेना चाहता है। तैयारी है कि चयनित आवेदकों की ट्रेनिंग नवंबरमें हर हाल में शुरू कर दी जाए।

Abhinay said...

बीटीसी धारक जल्द बनेंगे शिक्षक
•अमर उजाला ब्यूरो
लखनऊ। बीटीसी, विशिष्ट बीटीसी और उर्दू प्रवीणताधारियों को शिक्षक के रूप में भर्ती करने के लिए शासनादेश जारी कर दिया गया है। शासन ने इनके लिए पूर्व निर्धारित पदों की संख्या 50 घटा दी है। अब 9,820 पदों की जगह 9,770पर ही भर्ती होगी। मोअल्लिम वालों के संबंध में निर्णय नहीं हो पाया है। शासन ने सात अक्तूबर तक विज्ञापन निकालने और 31 दिसम्बर तक शिक्षक तैनाती की प्रक्रिया पूरी कर लेने का फैसला किया है।
प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा सुनील कुमार ने बीटीसी 2004 और विशिष्टबीटीसी 2004 से लेकर 2008 तक और इसी अवधि के उर्दू प्रवीणताधारियों को शिक्षक बनाने के लिए शासनादेश जारी कर दिया है। शासनादेश के अनुसार सात अक्तूबर तक विज्ञापन निकाला जाएगा और 31 दिसंबर तक सारी प्रक्रिया पूरी कर जाइन करा दिया जाएगा। शिक्षक बनने के लिए वे ही पात्र माने जाएंगे जो टीईटी पास होंगे। हालांकि इन्हें यह छूट दी गई है कि वे जिस जिले में चाहेंगे,वहां शिक्षक बनने के लिए आवेदन करसकेंगे। इसके लिए जिलेवार आवेदन लिए जाएंगे।
वहीं मोअल्लिम करने वालों को शिक्षक बनाने की प्रक्रिया फिलहाल अभी रुकी रहेगी। बेसिक शिक्षा विभाग ने इन्हें 2,911 पदों पर बिना टीईटी पास किए हुए नियमित शिक्षक बनाने के लिए न्याय विभाग से राय मांगी है।

Abhinay said...

विशिष्ट बीटीसी संघर्ष मोर्चा काअनशन जारी
लखनऊ। बीटीसी 2004, विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण 2004-7-8 के साथ उर्दू बीटीसी 2006 के प्रशिक्षुओं ने विधानभवन के सामने टीईटी में छूट के साथ भर्तीकी मांग शुक्रवार को भी जारी रखी।विशिष्ट बीटीसी संघर्ष मोर्चा केतहत धरने पर बैठे प्रदर्शनकारियों का कहना था कि उनका चयन एनसीटीई विनियम- 2001 के मानक के अनुसार किया गया, लेकिन उनको अब तक नियुक्ति नहीं दी गई। वहीं, उर्दू बीटीसी के प्रदर्शनकारी भी अनशन पर डटे रहे।
आश्वासन पर बीपीएड प्रदर्शनकारियों का धरना खत्म
लखनऊ। प्रदेश के उच्च प्राथमिक विद्यालयों में अनुदेशकों व शारीरिक शिक्षकों के पद पर भर्ती की मांग को लेकर आमरण अनशन पर बैठे बीपीएड डिग्री धारकों ने मुलायम सिंह यादव से आश्वासन मिलने के बाद शुक्रवार को धरना खत्म कर दिया।

Abhinay said...

अदालत में किया विरोध तो अब कैसे दें टीईटी से छूट
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण उत्तीर्ण कर चुके अभ्यर्थियों को शिक्षकों कीभर्ती में अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) से छूट देने के मामले में शासन को अपने पैर वापस खींचने पड़े हैं। शासन स्तर पर तयहो गया है कि विशिष्ट बीटीसी 2004, 2007 व 2008 के सामान्य व विशेष चयन के अभ्यर्थियों को शिक्षकों की भर्ती में टीईटी से छूट नहीं दी जा सकती है। वजह यह हैकि टीईटी से छूट देने के संबंध में विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षुओं की ओर से हाई कोर्ट में दायर की गईयाचिकाओं का बेसिक शिक्षा विभाग अदालत में प्रतिशपथपत्र देकर विरोध कर चुका है। परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए शैक्षिक अर्हता बीटीसी है। शिक्षकों की कमी से निपटने के लिए राज्य सरकार ने राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) से 2004, 2007 व 2008 में विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षण कीमंजूरी ली थी। विशिष्ट बीटीसी के तहत बीएड उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को छह महीने का प्रशिक्षण देकर उन्हें शिक्षक नियुक्त किया जातारहा है। विशिष्ट बीटीसी के इन बैचों के कुछ अभ्यर्थियों को कुछ कमियों का हवाला देकर ट्रेनिंग से रोका गया था। बाद में कोर्ट के निर्देश से इनकी ट्रेनिंग पूरी कराई गई। अभ्यर्थियों की ट्रेनिंग पूरी होने पर यह कहकर नियुक्ति देने से मना कर दिया कि अब टीईटी उत्तीर्ण करना अनिवार्यहै। सूबे में सत्ता परिवर्तन होने के बाद विशिष्ट बीटीसी प्रशिक्षुओं ने बेसिक शिक्षा मंत्री राम गोविंद चौधरी से गुहार लगाई थी कि उन्हें शिक्षकों की भर्ती में टीईटी से छूट दी जाए। तर्क यह दिया गया कि उन्हें छह महीने का प्रशिक्षण देकर शिक्षक नियुक्त करने संबंधीविज्ञापन 23 अगस्त 2010 को जारी एनसीटीई की अधिसूचना के पहले प्रकाशित कर दिए गए थे। इसलिए 23 अगस्त 2010 को जारी अधिसूचना की धारा-5 के तहत उन्हें शिक्षकों कीभर्ती में टीईटी से छूट दी जा सकती है। मंत्री की पहल पर विभाग ने इस मामले में विचार मंथन किया तो यह तथ्य सामने आया कि टीईटी से छूट देने की मांग को लेकर कुछ प्रशिक्षुओं ने हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। कोर्ट में दायर प्रशिक्षुओं की याचिकाओं काबेसिक शिक्षा विभाग ने प्रतिशपथपत्र देकर विरोध किया था।

Abhinay said...

बदलेगा परीक्षाओं का पैटर्न
एसएसएसी में नकल रोकने के लिए बड़े प्रश्न पूछने की तैयारी
इलाहाबाद। कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) की परीक्षाओं में लगातारनकल का आरोप लगने के बाद आयोग की ओर से परीक्षा पैटर्न में बदलाव की तैयारी की जा रही है। आयोग की ओर से परीक्षा प्रणाली में बदलाव करके छात्रों को सीधे नकल से रोकने की तैयारी हो रही है। विशेषज्ञ इस बारे में एकमत हैं किएसएससी की ओर से होने वाली परीक्षाओं को आब्जेक्टिव की बजायविस्तृत उत्तरीय कर दिया जाए, इससे नकल की प्रवृत्ति को रोका जासकेगा।
कर्मचारी चयन आयोग की परीक्षाओं में पूर्व में छोटे और बड़े दोनोंतरह के प्रश्न पूछे जाते थे, दो वर्ष पूर्व एसएससी की ओर से परीक्षा पैटर्न में बदलाव करके आयोग ने पहले और दूसरे चरण की परीक्षाओं को भी पूरी तरह से आब्जेक्टिव कर दिया था। दो चरण कीपरीक्षाओं के आब्जेक्टिव कर दिए जाने केबाद एसएससी की परीक्षाओं में नकल के ठेकेदारों को मनमानी की छूट मिल गई।
एसएससी के कर्मचारियों और केन्द्र व्यवस्थापकों की मिलीभगत से परीक्षार्थी हाईटेक नकल सामग्री का इस्तेमाल करने लगे और हर परीक्षा में नकल करते परीक्षार्थी पकड़े जाने लगे। लगातार नकल से परेशान एसएससी निदेशक ने परीक्षार्थियों की ओर से पूछे गए प्रश्नों के जवाब में इस बात के संकेत दिए हैं कि परीक्षाओं में नकल रोकने के लिए बड़े प्रश्नों को एक बार फिर से पूछा जा सकता है।
•दो वर्ष पूर्व पैटर्न में हुए बदलाव के बाद एसएससी की परीक्षाओं में बढ़ गई नकल की शिकायत

Rajeev Sharma said...

Salo dekh lo nakal. Aise hi tumne nakal ki aur tet me achchhe no laye. ( ye tet merit walo ke liye hai aur sdm ke liye.)

saurabh singh said...

abhinay g pls ek prblm solve kar do.bharti 1980 k accordng hongi jismain age 18 thi jab k sanshodhan 1981 main kiya h.pls clear ths

UPTET 2011 NEWS said...

शिक्षक बनने के लिए 21 से 40 वर्ष की आयु वाले पात्र--

लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए 21 से 40 वर्ष की आयु वाले पात्र होंगे। शिक्षक बनने से पहले टीईटी पास बीएड डिग्रीधारकों को 6 माह की विशिष्ट बीटीसी की ट्रेनिंग करनी होगी। इसके लिए 8 अक्तूबर तक विज्ञापन निकालकर 22 अक्तूबर से आवेदन लेने की तैयारी है। इस संबंध में शीघ्र ही शासनादेश जारी कर दिया जाएगा। विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए पहली बार जिलेवार ऑनलाइन आवेदन लिए जाएंगे।
राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) से अगस्त 2010 में जारी अधिसूचना के मुताबिक टीईटी पास बीएड डिग्रीधारकों को प्राइमरी स्कूलों में सीधे शिक्षक रखने की अनुमति दी गई है।
राज्य सरकार इसके आधार पर यूपी में 72 हजार 825 शिक्षकों की भर्ती करना चाहती थी। पर टीईटी को लेकर चल रहे विवाद और आए दिन होने वाले मुकदमे को देखते हुए सीधे शिक्षक न रखकर पहले छह माह की विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग देने का फैसला किया गया है। इस बीच टीईटी को लेकर कोर्ट से स्थिति भी साफ हो जाएगी। इसलिए जिलेवार बिशिष्ट बीटीसी की ट्रेनिंग के लिए आवेदन लिए जाएंगे। इसके लिए 8 अक्तूबर तक विज्ञापन निकाल दिया जाएगा और 22 अक्तूबर से ऑनलाइन आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। आवेदन लेने की अंतिम तिथि 23 नवंबर होगी और दिसंबर से काउंसलिंग के साथ ट्रेनिंग प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।
•विशिष्ट बीटीसी ट्रेनिंग के लिए जिलेवार लिए जाएंगे आवेदन
•ऑनलाइन आवेदन 22 अक्तूबर से लिए जाने की तैयारी

epaper.amarujala.com/svww_zoomart.php?Artname=20120930a_006151011&ileft=-5&itop=73&zoomRatio=182&AN=20120930a_006151011

epaper.amarujala.com/svww_index.php
by deepak k dwivedi

Abhay Yadav said...

bhartee chahe 1980 me ho ya 1981 se age 18 year se honi chahiye bhaiyo uto aur age badho hme aage badhna hai sahyog do tabhi kuch hoga warna jindagi bhar pachtaoge......9807007999

Abhay Yadav said...

bhartee chahe 1980 me ho ya 1981 se age 18 year se honi chahiye bhaiyo uto aur age badho hme aage badhna hai sahyog do tabhi kuch hoga warna jindagi bhar pachtaoge......9807007999

Abhay Yadav said...

bhartee chahe 1980 me ho ya 1981 se age 18 year se honi chahiye bhaiyo uto aur age badho hme aage badhna hai sahyog do tabhi kuch hoga warna jindagi bhar pachtaoge......9807007999

Abhay Yadav said...

bhartee chahe 1980 me ho ya 1981 se age 18 year se honi chahiye bhaiyo uto aur age badho hme aage badhna hai sahyog do tabhi kuch hoga warna jindagi bhar pachtaoge......9807007999

Abhay Yadav said...

bhartee chahe 1980 me ho ya 1981 se age 18 year se honi chahiye bhaiyo uto aur age badho hme aage badhna hai sahyog do tabhi kuch hoga warna jindagi bhar pachtaoge......9807007999

Abhay Yadav said...

bhartee chahe 1980 me ho ya 1981 se age 18 year se honi chahiye bhaiyo uto aur age badho hme aage badhna hai sahyog do tabhi kuch hoga warna jindagi bhar pachtaoge......9807007999

Abhay Yadav said...

ham kisi ka virodh nahi kar rahe hai hm sirf age ko lekar paresan hai isliye hum logo ka bhi koi log virodh na kare..sabko job mileg thanx.......9807007999

Abhay Yadav said...

ham kisi ka virodh nahi kar rahe hai hm sirf age ko lekar paresan hai isliye hum logo ka bhi koi log virodh na kare..sabko job mileg thanx.......9807007999

Abhay Yadav said...

ham kisi ka virodh nahi kar rahe hai hm sirf age ko lekar paresan hai isliye hum logo ka bhi koi log virodh na kare..sabko job mileg thanx.......9807007999

Abhay Yadav said...

ham kisi ka virodh nahi kar rahe hai hm sirf age ko lekar paresan hai isliye hum logo ka bhi koi log virodh na kare..sabko job mileg thanx.......9807007999

Abhay Yadav said...

ham kisi ka virodh nahi kar rahe hai hm sirf age ko lekar paresan hai isliye hum logo ka bhi koi log virodh na kare..sabko job mileg thanx.......9807007999

rampal singh said...

sc/st 50% tet pass wale sathiyo agar serkar vigyapan nikalne se pahle sc/st ko 50% marks par pass nahi karti h to ye bharti latkegi,kyoki esa kisi rajya m nahi hua h,or hamare all. h.c m kesh bhi chal rahe h , R.P.Singh