BREAKING NEWS

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शिक्षक भर्ती की तैयारी शुरू ***चुनावी गणित में भावी शिक्षकों पर भी डोरे *** :----

Tuesday, 28 August 2012

UPTET- अध्यापक सेवा नियमावली (1981) में हुआ संशोधन|

UPTET (टीईटी)-अध्यापक सेवा नियमावली (1981) में संशोधन पर कैबिनेट की मुहर ।

Source- Etv

120 comments:

Anonymous said...

Plz koi to kuch news do ? Kya sansodhan hua..?

saurabh singh said...

abi etv up par meetng ki news ayi h.age limit 18-35 kar d h nd 4 baje tak sab pta chal jayega :)

Anonymous said...

kya hua hai??????
pls.inf

Anonymous said...

Kya sansodhan hua hai editor ji plz clear karde.?

Anonymous said...

kya ye amendment is bharti par bhi lagu hoga, jbki judge ke anusar to 72825 wali bharti par lagu nahi hona chihiye, unhone to isko niyam virudh kaha hai jaisa ki v.k.yadav ji dwara isi blog par kal bataya gaya tha.

saurabh singh said...

sanshodhan toh pehle he ho chuka tha as acd merit bus aaj cabinate ki meetng main mohar lagi h.

Vijay Sen Tripathi said...

ahir government ne kya amendment kiya????

D.K said...

v.k.yadav plz ye bataye ki hamari bharti k liye kya purane aavedan hi manya honge. Btc4 or vbtc walo ki joining ka kya procedure hoga. Yadav ji i am waiting for your answer. Plz rply me soon.

vivek said...

uptet ji muge aaj ki information chahiye aur ydi acd bnti hai to kya ye case court m lmba nhi chlega plz sir..

rakesh kumar said...

Ab kya hoga.kya ye sansodhan es bharti prakiya par lagu hogi.

Shabbir hussain said...

Yeh sanshodhan btc,sbtc ke liye h 72825 ke liye nahi.5500 vacancies ke liye jo alag se vigyapan niklega, yeh sanshodhan inme lagoo hoga.

Anonymous said...

kya sansodhan hua clear pata nahi chal paa raha hai.koee clear karega

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

DEAR SHABBIR JI TUM TO KABINET MINISTER HO.JO TUMHE PTA H YE KIS PR LAGU HOGA.

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

V.K YADAV YOU R INTELIGENCE YOUNG MAN.
me apka saman krta hu.

DILIP ALIGARH said...

Acc merit zindabad

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Thanks

anoop said...

V.K.Yadav ji kya ye es bharti prakriya pe lagu hoga plz btaye

vivek said...

vk yadav ji plz hme information do aisa kya sansodhan hua hai jo pta hi nhi chal rha yha sanse atki hui hai blog chodker mt jaiye plz plz plz sir

A.K.Singh said...

Please give details information of cabinet meeting.

deepakdwivedi said...

Ye sansodhan is bharti par lagu hoga kyu ki judge ne khud gov ko time dekar sansodhan kraya hai.

UPTET said...

Shabbir hussain ji ,why you making fool to other while u know very well that this change also include current vacany 72825.

UPTET said...

vivek now merit will be based on acd.

Sachin Kumar said...

Ab to acd merit hi banegi. Jp nagar amroha

rahul singh said...

niyamawali mein sansodhan se 72825 ki bharti par koi fark nahi padne wala. tet merit ka paksha kafi majboot hai,beech mein niyam badlana sarkar ke bab ki baat nahi hai.tum log acd walo man mein khusiyan manate raho.

saurabh singh said...

uptet apko kab tak pta chalega k kya sashodhan hua h?

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Dear Friends,
Abhi tak kuchh clear nahi ho saka hai ki aaj tet amendment me kya-kya hua hai abhi-abhi etv up par ye news show ho rahi hai-
"cabinet me tet ke pichhle sansodhan par muhar lagi"
es news me confusion hai lekin mera jahan tak vichar hai cabinet me 23July wale GO par muhar lagi hai esliye yaha par "pichhale sanshodhan" ki baat ho rahi hai kyoki pichhala sanshodhan ka prasav maukhik rup se 23 ko hi aaya tha.
VAISE aaplog nishchint rahe jaise hi gov ke officialy website par news GO avm cabinet ki mohar ki news show hogi just publish karunga.THANKS

Anonymous said...

kya kisi ke pass koi thos information nahi hai?

rahul singh said...

maine kal court mein sunwai dekhi judge ne saaf kaha vigypati mein aisi koi baat nahi hai jisse ise nirast kiya jaye aur is bharti mein poorv mein bane niyam ncte ki guidline ke anuroop hai,ise beech mein aur is bharti mein badla nahi ja sakta, sarkar ko agar ammendment cahange karna hai to agli tet se pahle lagoo hoga.dhanywad acdmic supporters court mein milenge.

rahul singh said...

etv,amar ujala aur sarkar is bhati par daag nahi laga sakte.bharti tet merit par hogi it is 1oo% sure.

saurabh singh said...

govt ki kis website par g.o ayega?

Anonymous said...

hello

vesh kumar said...

k

VIKRAM PRATAP SINGH SAIFAI (ETAWAH) said...

Ab date na mile bas aattaama trapt ho gai hai

VIKRAM PRATAP SINGH SAIFAI (ETAWAH) said...

Ab date na mile bas aattaama trapt ho gai hai

VIKRAM PRATAP SINGH SAIFAI (ETAWAH) said...

Ab date na mile bas aattaama trapt ho gai hai

sanjeev said...

v k yadav g thanks for sharing information with us .sir ek bat bataiye yadi pichhle sansodhan par muhar lagi h to jaha tak mai samjhta hu cm akhilesh yadav ke adhyakshta mai hue cabinet meeting mai niyamawali mai koi sansodhan nahi kiya gaya tha kewal sansodhan karne ki bat kee gayee thi .please clear this point .

vesh kumar said...

age dekho kya ho mai to bharti hone ke support mai hu chahe kaise b ho koi batai kya sarkar ke is change ko manna cort ki majburi hogi

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

isi pr lagu hoga ye amendment quki judge shab bhi yahi chate h.

rahi bat vigyapan ki to wo nichit tor pr radd hoga .

quki agar ap log kh rhe h ki niyam anusar kam hoga to vigyapan kalne ka adhikar bsa ko h.

iss adhar pr vigyapan raad hoga.
or ek bat dusra vigyapan neklne pr new low lagu hoga 100%.

vesh kumar said...

sarkar ko ye adhikar hai ki wo niymawali mai change kar sake to kya ise challange nai kiya ja sakta

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

V.K YADAV JI PLZ RESPONCE ME> isi pr lagu hoga ye amendment quki judge shab bhi yahi chate h.

rahi bat vigyapan ki to wo nichit tor pr radd hoga .

quki agar ap log kh rhe h ki niyam anusar kam hoga to vigyapan kalne ka adhikar bsa ko h.

iss adhar pr vigyapan raad hoga.
or ek bat dusra vigyapan neklne pr new low lagu hoga 100%.

vesh kumar said...

thik hi hai ab aur date na mile na jane kitne log koi aur kam nai kar pa rahe hai kitno ne shadi nai ki hai kitne log pareshan hai yar

sanjeev said...

rahul g mai apki bat se sehmat hu mera ek friend bhi court mai tha usne bhi yahi bat batayi thi ki judge sahab ne spast sabdo mai kaha tha ki koi bhi amendment vartman bharti ke lagu nahi hoga .bharti tet merit se hogi ab sawal ye uthhta hai ki govt ise khud karti h ya court karwati h .

vesh kumar said...

aur koi news ho to share kare

sanjeev said...

brothers don t worry everything will be clear to you in this month .both court and govt are going to put their view in this month .pray to god for recruitment at an early date .

sanjeev said...

friends if you are watching news please share any news .

manoj kumar said...

mitro tet exam k pahle hi ye nirdes aa gya tha ki isme mile anko ko hi chayan ka adhar banaya jayega, ab yadi govt ise acd base pr chayan karna chahe to nhi kr sakti Qki ish se tet ranker k saath annyay hoga, bhle hi ye up govt ka nitigat faisla ho, court ise badal skta hai Qki court ka kaam hai justice dilaana.

ok

sanjeev said...

friends if you are watching news please share thanks

sanjeev said...

friends if you are watching news please share thanks

Anonymous said...

"cabinet me tet ke pichhle sansodhan par muhar lagi" sapa gov ne jo sansodhan kiya tha wahi maya hoga !

sheo maurya said...
This comment has been removed by the author.
vivek said...

vk yadav ji plz ye btaye ki ydi base acd hua to kya ye case aur lmba nhi jayega kyo ki bhrti tet merit se honi thi plz sir clear kre

Shabbir hussain said...

Mana vigyapan bsa jari karta h to sabhi zilo ke bsa ne form swikar q kiye.vigyapan samast bsa karke combined rup se nikala jo sahì h,form to combind roop se jama nahi kiya balki jilawise hue.aur rahi baat ki judge ne sanshodhan karaya h,yeh q bhoolte ho ki judge ne btc sbtc ko alag safe karne ko kaha.yeh hamare matter jude hain ,sarkar ne bhi kaha h ki hum btc sbtc ke liye alag se vigyapan nikalenge,so yeh sanshodhan inhi 5500 seats &agli bharti ke liye hoga 72825 ke liye nahi.isliye to sarkar ne 72825 seats ka classification change nahi kiya.sanjeeb g aur giri g kya aap meri baat se sehmat hain plz reply.

Shabbir hussain said...

Mana vigyapan bsa jari karta h to sabhi zilo ke bsa ne form swikar q kiye.vigyapan samast bsa karke combined rup se nikala jo sahì h,form to combind roop se jama nahi kiya balki jilawise hue.aur rahi baat ki judge ne sanshodhan karaya h,yeh q bhoolte ho ki judge ne btc sbtc ko alag safe karne ko kaha.yeh hamare matter jude hain ,sarkar ne bhi kaha h ki hum btc sbtc ke liye alag se vigyapan nikalenge,so yeh sanshodhan inhi 5500 seats &agli bharti ke liye hoga 72825 ke liye nahi.isliye to sarkar ne 72825 seats ka classification change nahi kiya.sanjeeb g aur giri g kya aap meri baat se sehmat hain plz reply.

Rajkumar Maurya said...

Dear chauhan ji,>>> bane-banaye makan kee neev nahi khodee jatee,naya makan banane ke liye neev khodee jatee hai.

sanjeev said...

sabbir bhai mere yaha to pichhle 2hours se light nahi aa rahi h cabinet meeting mai uptet ko lekar kya amendment hua please clear it .aj news ke liye coaching bhi chhod di .

vivek said...

vk yadav ji, uptet ji koi to btaye ab kya case court me nhi rhega tet vs acd plz

Anonymous said...

tet ko patrata mante huye bharti hoga

Anonymous said...

muskan ji ki website par ek shakhs keh raha tha ki Bharti 1-5 class ke liye hai isliye merit bhi class 1 se 5 tak ke numbers se hi banegi.

UPTET said...

Shabbir hussain ji ,why you making fool to other while u know very well that this change also include current vacany 72825.

sanjeev said...

sabbir ek aisi news sunne mai aa rahi h ki purwa sansodhan par lagi cabinet ki muhar .ye purwa sansodhan kaun sa h .please express your view .sabbir bhai mai apke dwra diye gaye comment se completely agree hu .

UPTET said...

you are not a policy maker.Why you making fool to yourself.while you know that rule can be changed by the recruiter.Government is doing the same thing.

sanjeev said...

uptet g pareshan na ho sachchai jaldi hi samne ane wali h waise bhi general mai 98ya 100tak ho jayega yadi isse bhi kam h to kuchh nahi kiya ja sakta .

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Dear Friend,
mai tet v acd ke lafde me nahi padna chahta lekin jahan tak mera manna hai yadi vigyapan radd ho jayega tabhi mamla court me nahi fansega nahi to phir court se shayad kabhi fursat mil paaye.kuchh friends ne up gov ka official link manga tha vah yah hai-
www.up.nic.in
www.upgov.nic.in
Friends,aaj dinbhar search karte-karte mere cell phone ki battery discharge hone wali hai esliye updates der raat ya morning me milegi tab tak ke liye bye.THANKS

Rajpal yadav said...

acd kaha tak ja sakti hain koi idea

Rajpal yadav said...

hi

Sachin Kumar said...

Hi

Rajpal yadav said...

or v k yadav ji kya hal hain aaj kal phone naji utha rahe

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Plz follow this link-
www.up.nic.in
www.upgov.nic.in

Vijay Sen Tripathi said...

none anonymous can allowed to comment because they are not known by society .

Sachin Kumar said...

Cabinet meeting website- information.up.nic.in der rat ko show ho jayega aaj ke sansodhan ke bare me please wait .thank

Rajkumar Maurya said...

Dear friends, jis prkar nayi neev naye makan ka adhar hoti hai usee prkar nayi niymawli naye vigyapan ka adhar hogi purane vigyapan ka nahee.

vivek said...

vk yadav ji thanks ab smgh aa gya ydi vigyapn cancel hua to bhrti acd se aur vigyapn cancel nhi hua to bhrti 5 sal bad hogi aapka bhut bhut thanks

sanjeev said...

good evening friends .

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lijiye friends jate jate ek aur news newspaper ki bata deta hun-
News source-Navbharat times
इमर्जेंसी में जेल जाने वालों को सम्मानित करेगी यूपी सरकार
Aug 28, 2012, 05.28PM IST
विजय दीक्षित
लखनऊ ।। अखिलेश सरकार ने मंगलवार को कई अहम फैसले लिए, जिनमें मायावती सरकार के दौरान लिए गए कुछफैसलों को भी पलटा गया। सरकार ने इमर्जेंसी के दौरान संघर्ष करने वालों को सम्मानित करने के साथ-साथ कुछ और सुविधाएं देने का भी फैसला किया है।इसके साथ ही यूपी सरकार नेटीईटी समेत और कई मुद्दों पर अहम फैसले लिए। आइए नजरडालते हैं कुछ अहम फैसलों पर:
इमर्जेंसी में संघर्षकरने वालों को सुविधा
कैबिनेट ने फैसला लिया है कि इमर्जेंसी में संघर्ष करने और MISA-DIR के तहत जेल में बंद रहे लोगों को 'वीरों' का सम्मान देते हुए उन्हें हर महीने 3 हजार रुपये दिया करेगी। इन लोगों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलेगी और साथ ही ये परिवहन निगम की बसों में फ्री में यात्रा कर सकते हैं।
मायावती सरकार का फैसला पलटा
यूपी कैबिनेट ने नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सिंचाई विभाग से मिली 895.63 एकड़ जमीन को फिर से सिंचाई विभाग को सौंप दिया गया है। इसके साथ ही जिन अधिकारियों ने इस जमीन को सिंचाई विभाग से लेकर नोएडा अथॉरिटी को सौंपा था, उनके खिलाफ जांचकरके ऐक्शन लिया जाएगा। माना जा रहा है कि मायावतीसरकार के दौरान इस जमीन कोबिल्डरों को देने की योजना बनाई जा रही थी।
मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस
सीएम ने बताया कि केंद्र सरकार के मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस-2007 को यूपी में लागू करने के लिए चीफ सेक्रेटरी जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला लिया है।
हाई कोर्ट के जजों को मुफ्त मिलेगी जमीन
इलाहाबाद हाई कोर्ट के जजों को आवासीय सुविधा के लिए इलाहाबाद की तहसील सदर में 13750 वर्ग मीटरजमीन मुफ्त में आवंटित की जाएगी। हो सकता है कि जजोंऔर रिटायर्ड जजों के लइए वहां पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाई जाए।
टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lijiye friends jate jate ek aur news newspaper ki bata deta hun-
News source-Navbharat times
इमर्जेंसी में जेल जाने वालों को सम्मानित करेगी यूपी सरकार
Aug 28, 2012, 05.28PM IST
विजय दीक्षित
लखनऊ ।। अखिलेश सरकार ने मंगलवार को कई अहम फैसले लिए, जिनमें मायावती सरकार के दौरान लिए गए कुछफैसलों को भी पलटा गया। सरकार ने इमर्जेंसी के दौरान संघर्ष करने वालों को सम्मानित करने के साथ-साथ कुछ और सुविधाएं देने का भी फैसला किया है।इसके साथ ही यूपी सरकार नेटीईटी समेत और कई मुद्दों पर अहम फैसले लिए। आइए नजरडालते हैं कुछ अहम फैसलों पर:
इमर्जेंसी में संघर्षकरने वालों को सुविधा
कैबिनेट ने फैसला लिया है कि इमर्जेंसी में संघर्ष करने और MISA-DIR के तहत जेल में बंद रहे लोगों को 'वीरों' का सम्मान देते हुए उन्हें हर महीने 3 हजार रुपये दिया करेगी। इन लोगों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलेगी और साथ ही ये परिवहन निगम की बसों में फ्री में यात्रा कर सकते हैं।
मायावती सरकार का फैसला पलटा
यूपी कैबिनेट ने नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सिंचाई विभाग से मिली 895.63 एकड़ जमीन को फिर से सिंचाई विभाग को सौंप दिया गया है। इसके साथ ही जिन अधिकारियों ने इस जमीन को सिंचाई विभाग से लेकर नोएडा अथॉरिटी को सौंपा था, उनके खिलाफ जांचकरके ऐक्शन लिया जाएगा। माना जा रहा है कि मायावतीसरकार के दौरान इस जमीन कोबिल्डरों को देने की योजना बनाई जा रही थी।
मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस
सीएम ने बताया कि केंद्र सरकार के मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस-2007 को यूपी में लागू करने के लिए चीफ सेक्रेटरी जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला लिया है।
हाई कोर्ट के जजों को मुफ्त मिलेगी जमीन
इलाहाबाद हाई कोर्ट के जजों को आवासीय सुविधा के लिए इलाहाबाद की तहसील सदर में 13750 वर्ग मीटरजमीन मुफ्त में आवंटित की जाएगी। हो सकता है कि जजोंऔर रिटायर्ड जजों के लइए वहां पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाई जाए।
टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lijiye friends jate jate ek aur news newspaper ki bata deta hun-
News source-Navbharat times
इमर्जेंसी में जेल जाने वालों को सम्मानित करेगी यूपी सरकार
Aug 28, 2012, 05.28PM IST
विजय दीक्षित
लखनऊ ।। अखिलेश सरकार ने मंगलवार को कई अहम फैसले लिए, जिनमें मायावती सरकार के दौरान लिए गए कुछफैसलों को भी पलटा गया। सरकार ने इमर्जेंसी के दौरान संघर्ष करने वालों को सम्मानित करने के साथ-साथ कुछ और सुविधाएं देने का भी फैसला किया है।इसके साथ ही यूपी सरकार नेटीईटी समेत और कई मुद्दों पर अहम फैसले लिए। आइए नजरडालते हैं कुछ अहम फैसलों पर:
इमर्जेंसी में संघर्षकरने वालों को सुविधा
कैबिनेट ने फैसला लिया है कि इमर्जेंसी में संघर्ष करने और MISA-DIR के तहत जेल में बंद रहे लोगों को 'वीरों' का सम्मान देते हुए उन्हें हर महीने 3 हजार रुपये दिया करेगी। इन लोगों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलेगी और साथ ही ये परिवहन निगम की बसों में फ्री में यात्रा कर सकते हैं।
मायावती सरकार का फैसला पलटा
यूपी कैबिनेट ने नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सिंचाई विभाग से मिली 895.63 एकड़ जमीन को फिर से सिंचाई विभाग को सौंप दिया गया है। इसके साथ ही जिन अधिकारियों ने इस जमीन को सिंचाई विभाग से लेकर नोएडा अथॉरिटी को सौंपा था, उनके खिलाफ जांचकरके ऐक्शन लिया जाएगा। माना जा रहा है कि मायावतीसरकार के दौरान इस जमीन कोबिल्डरों को देने की योजना बनाई जा रही थी।
मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस
सीएम ने बताया कि केंद्र सरकार के मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस-2007 को यूपी में लागू करने के लिए चीफ सेक्रेटरी जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला लिया है।
हाई कोर्ट के जजों को मुफ्त मिलेगी जमीन
इलाहाबाद हाई कोर्ट के जजों को आवासीय सुविधा के लिए इलाहाबाद की तहसील सदर में 13750 वर्ग मीटरजमीन मुफ्त में आवंटित की जाएगी। हो सकता है कि जजोंऔर रिटायर्ड जजों के लइए वहां पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाई जाए।
टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lijiye friends jate jate ek aur news newspaper ki bata deta hun-
News source-Navbharat times
इमर्जेंसी में जेल जाने वालों को सम्मानित करेगी यूपी सरकार
Aug 28, 2012, 05.28PM IST
विजय दीक्षित
लखनऊ ।। अखिलेश सरकार ने मंगलवार को कई अहम फैसले लिए, जिनमें मायावती सरकार के दौरान लिए गए कुछफैसलों को भी पलटा गया। सरकार ने इमर्जेंसी के दौरान संघर्ष करने वालों को सम्मानित करने के साथ-साथ कुछ और सुविधाएं देने का भी फैसला किया है।इसके साथ ही यूपी सरकार नेटीईटी समेत और कई मुद्दों पर अहम फैसले लिए। आइए नजरडालते हैं कुछ अहम फैसलों पर:
इमर्जेंसी में संघर्षकरने वालों को सुविधा
कैबिनेट ने फैसला लिया है कि इमर्जेंसी में संघर्ष करने और MISA-DIR के तहत जेल में बंद रहे लोगों को 'वीरों' का सम्मान देते हुए उन्हें हर महीने 3 हजार रुपये दिया करेगी। इन लोगों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलेगी और साथ ही ये परिवहन निगम की बसों में फ्री में यात्रा कर सकते हैं।
मायावती सरकार का फैसला पलटा
यूपी कैबिनेट ने नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सिंचाई विभाग से मिली 895.63 एकड़ जमीन को फिर से सिंचाई विभाग को सौंप दिया गया है। इसके साथ ही जिन अधिकारियों ने इस जमीन को सिंचाई विभाग से लेकर नोएडा अथॉरिटी को सौंपा था, उनके खिलाफ जांचकरके ऐक्शन लिया जाएगा। माना जा रहा है कि मायावतीसरकार के दौरान इस जमीन कोबिल्डरों को देने की योजना बनाई जा रही थी।
मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस
सीएम ने बताया कि केंद्र सरकार के मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस-2007 को यूपी में लागू करने के लिए चीफ सेक्रेटरी जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला लिया है।
हाई कोर्ट के जजों को मुफ्त मिलेगी जमीन
इलाहाबाद हाई कोर्ट के जजों को आवासीय सुविधा के लिए इलाहाबाद की तहसील सदर में 13750 वर्ग मीटरजमीन मुफ्त में आवंटित की जाएगी। हो सकता है कि जजोंऔर रिटायर्ड जजों के लइए वहां पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाई जाए।
टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lijiye friends jate jate ek aur news newspaper ki bata deta hun-
News source-Navbharat times
इमर्जेंसी में जेल जाने वालों को सम्मानित करेगी यूपी सरकार
Aug 28, 2012, 05.28PM IST
विजय दीक्षित
लखनऊ ।। अखिलेश सरकार ने मंगलवार को कई अहम फैसले लिए, जिनमें मायावती सरकार के दौरान लिए गए कुछफैसलों को भी पलटा गया। सरकार ने इमर्जेंसी के दौरान संघर्ष करने वालों को सम्मानित करने के साथ-साथ कुछ और सुविधाएं देने का भी फैसला किया है।इसके साथ ही यूपी सरकार नेटीईटी समेत और कई मुद्दों पर अहम फैसले लिए। आइए नजरडालते हैं कुछ अहम फैसलों पर:
इमर्जेंसी में संघर्षकरने वालों को सुविधा
कैबिनेट ने फैसला लिया है कि इमर्जेंसी में संघर्ष करने और MISA-DIR के तहत जेल में बंद रहे लोगों को 'वीरों' का सम्मान देते हुए उन्हें हर महीने 3 हजार रुपये दिया करेगी। इन लोगों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलेगी और साथ ही ये परिवहन निगम की बसों में फ्री में यात्रा कर सकते हैं।
मायावती सरकार का फैसला पलटा
यूपी कैबिनेट ने नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सिंचाई विभाग से मिली 895.63 एकड़ जमीन को फिर से सिंचाई विभाग को सौंप दिया गया है। इसके साथ ही जिन अधिकारियों ने इस जमीन को सिंचाई विभाग से लेकर नोएडा अथॉरिटी को सौंपा था, उनके खिलाफ जांचकरके ऐक्शन लिया जाएगा। माना जा रहा है कि मायावतीसरकार के दौरान इस जमीन कोबिल्डरों को देने की योजना बनाई जा रही थी।
मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस
सीएम ने बताया कि केंद्र सरकार के मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस-2007 को यूपी में लागू करने के लिए चीफ सेक्रेटरी जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला लिया है।
हाई कोर्ट के जजों को मुफ्त मिलेगी जमीन
इलाहाबाद हाई कोर्ट के जजों को आवासीय सुविधा के लिए इलाहाबाद की तहसील सदर में 13750 वर्ग मीटरजमीन मुफ्त में आवंटित की जाएगी। हो सकता है कि जजोंऔर रिटायर्ड जजों के लइए वहां पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाई जाए।
टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

IS BHARTI ME KAWL 1-5 tak wale hi valid h.gov rules

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lijiye friends jate jate ek aur news newspaper ki bata deta hun-
News source-Navbharat times
इमर्जेंसी में जेल जाने वालों को सम्मानित करेगी यूपी सरकार
Aug 28, 2012, 05.28PM IST
विजय दीक्षित
लखनऊ ।। अखिलेश सरकार ने मंगलवार को कई अहम फैसले लिए, जिनमें मायावती सरकार के दौरान लिए गए कुछफैसलों को भी पलटा गया। सरकार ने इमर्जेंसी के दौरान संघर्ष करने वालों को सम्मानित करने के साथ-साथ कुछ और सुविधाएं देने का भी फैसला किया है।इसके साथ ही यूपी सरकार नेटीईटी समेत और कई मुद्दों पर अहम फैसले लिए। आइए नजरडालते हैं कुछ अहम फैसलों पर:
इमर्जेंसी में संघर्षकरने वालों को सुविधा
कैबिनेट ने फैसला लिया है कि इमर्जेंसी में संघर्ष करने और MISA-DIR के तहत जेल में बंद रहे लोगों को 'वीरों' का सम्मान देते हुए उन्हें हर महीने 3 हजार रुपये दिया करेगी। इन लोगों को नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा मिलेगी और साथ ही ये परिवहन निगम की बसों में फ्री में यात्रा कर सकते हैं।
मायावती सरकार का फैसला पलटा
यूपी कैबिनेट ने नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण को सिंचाई विभाग से मिली 895.63 एकड़ जमीन को फिर से सिंचाई विभाग को सौंप दिया गया है। इसके साथ ही जिन अधिकारियों ने इस जमीन को सिंचाई विभाग से लेकर नोएडा अथॉरिटी को सौंपा था, उनके खिलाफ जांचकरके ऐक्शन लिया जाएगा। माना जा रहा है कि मायावतीसरकार के दौरान इस जमीन कोबिल्डरों को देने की योजना बनाई जा रही थी।
मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस
सीएम ने बताया कि केंद्र सरकार के मदर-फादर ऐंड सीनियर सिटिजन ऑर्डिनेंस-2007 को यूपी में लागू करने के लिए चीफ सेक्रेटरी जावेद उस्मानी की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित करने का फैसला लिया है।
हाई कोर्ट के जजों को मुफ्त मिलेगी जमीन
इलाहाबाद हाई कोर्ट के जजों को आवासीय सुविधा के लिए इलाहाबाद की तहसील सदर में 13750 वर्ग मीटरजमीन मुफ्त में आवंटित की जाएगी। हो सकता है कि जजोंऔर रिटायर्ड जजों के लइए वहां पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंग बनाई जाए।
टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Cutting of Navbharat newspaper news at 5:38 PM-टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूपमें स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Cutting of Navbharat newspaper news at 5:38 PM-टीईटी पर फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूपमें स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिक टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

dekho kya hota h.

Anonymous said...

Very much cinfusion here.... Up government gave consent to pre-amendment in teachers service rule... SP gov. has not made any amendment? So for I know

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

tet news kal ka masala banegi.

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

Vigyapan ka adhikar kwal BSAko hota h.

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

Vigyapan ka adhikar kwal BSA{basic sikhsha adhikari}ko hota h.

rahul singh said...

yeh to wahi baat hui ticket liya hai lucknow ka aur bole kanpur jana hai,rahi baat vigyapti ki to maya sarkar sare jilo ke bsa ki taraf se counter laga chuki thi,aur sare bsa ne ise swikar kiya tha,so vigyapti radd nahi hogi bharti tet merit se hi hogi.

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

shabbir ko aj heart atach na ho jay .usko dosto samjha do.

Shabbir hussain said...

Dear ramveer tum apne ko bsa samajh rahe ho kya. ?

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

rahul singh disprine lo sar dard bhagao.jyada socho mat jo hoga wah to hoga hi.

UPTET said...

टीईटी पर संशोधन का फैसला
टीईटी को क्वॉलिफाइंग एग्ज़ाम के रूप में स्वीकार करने के बारे में उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन को भी हरी झंडी दी गई। सीएम खुद चाहते थे कि इसमें बदलाव लाया जाए। इस फैसले से बेसिट टीचर्स को खासा लाभ मिलेगा।

RAJVEER SINGH CHAUHAN :J.P.NAGAR AMROHA said...

sabbir hussan ramveer nahi .my rajveer singh chauhan .tum pagal ho gye ho .tumhara kya hoga.

ram sundar said...

Dekhiye ab aage kya ho hota he?
ek dusre kd daav pech to chal hi rhe hain !

rahul singh said...

mr amroha sahab allahabadiyon ko disprin ki jarurat nahi padegi aap pareshan na ho pure case par nazar hai 11 wakil tanat hai tet paksha ke liye,acd bharti ke liye dali writ shuruwat main hi khariz ho gayee thi.














Shabbir hussain said...

Rajveer tum to pahle se pagal ho, pagalkhane se kab aaye?baise me paglo ke muh kabhi nahi lagta.

RS TIWARI said...

Do't wory tet merit suporter koi na koi upay nikala jayega aise kaise har maan lenge
jabki humlogo ke pas kai solid point he.
iska fayda govt 2014 ke chunav me utha nahi payegi !

sanjeev said...

yadav g thanks par mamla ab bhi clear nahi h .

vivek said...

sansodhan kiya jayega
hri ghndi de di gyi
bs srkar ke pas yhi jvav hote hai fir ye court se smy magegi jb tk tet merit vale aur writ dal denge kuch nhi bcha sb khtm ho gya

Sachin Kumar said...

Rajveer singh me bhi amroha se hu. Aap amroha me kaha se ho...

rahul singh said...

tum logo ko yad dilata hoon sp sarkar dwara liye gaye faisle 1.chunav se pehle tet radd hogi 2.high power comeeette ne tet ki suchita par unglee uthai aur ise acd karne ka faisla kiya,sabit aaj tak nahi kar paye3.nyaa vibhag ki rai par hoga faisla,khud court ne do mahine ka smay diya abhi tak faisla nahile paye,court date deti hai 27 ko ye niyam badlte hai 28 ko.
bewkoof bante raho ghar baithe sach samne aa jayega

sanjeev said...

friends up news ke sare news channel dekh dale lekin bharti rule ko change karne ki bat nahi hui mujhe ye lagta h ki pichhle sarkar ke transfer ke sansodhan neeti k hari jhandi dikha di h jisse basic teachers k vishesh labh hoga .yadav g ki news bhi isi taraf isara karti h .if you have any different idea please express it .

sanjeev said...

IN FACT NOTHING IS CLEAR YET .EVERYTHING LIES IN CONFUSION .

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lo bhai sab confusion par viram
Shakul Gupta
exclusive at navat
टीईटी को मिला पात्रता परीक्षा का दर्जा
Updated on: Tue, 28 Aug 2012 07:45 PM (IST)
-उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन
-हाईस्कूल, इंटर व स्नातक के अंकों केआधार पर होगा चयन
-सीटीईटी भी पात्रता परीक्षा के तौर पर मान्य
-विज्ञान व गणित शिक्षक के 50 फीसद पदों पर सीधी भर्ती
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : शिक्षा के अधिकार कानून के तहत कक्षा एक से आठ तक में शिक्षकों की भर्ती के लिए अनिवार्य की गई अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) को राज्य में पात्रता परीक्षा का दर्जा मिल गया है। टीईटी को पात्रता परीक्षा देने के लिए कैबिनेट ने मंगलवार को उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली, 1981 की धारा-14 में संशोधन के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। नियमावली में इस संशोधन के बाद शिक्षकों की भर्ती का आधार टीईटी की मेरिट की बजाय हाईस्कूल, इंटरमीडिएट और स्नातक के अंकों के आधार पर जिला स्तर पर तैयार की जाने वाली मेरिट होगी।
कैबिनेट ने नियमावली की धारा-8 में संशोधन के प्रस्ताव को मंजूरी देकर शिक्षकों की नियुक्ति के लिए अनिवार्य पात्रता परीक्षा के रूप में टीईटी के साथ अब केंद्र सरकार द्वारा आयोजित केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) को भी मान्यता दे दी है। इस संशोधन के बाद सीटीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थी भी राज्यमें शिक्षकों की भर्ती के लिए आवेदन कर सकेगा। नियमावली की धारा-5 में संशोधन के प्रस्ताव को स्वीकृति देकर कैबिनेट ने परिषदीय जूनियर हाईस्कूलों में विज्ञान और गणित शिक्षकों के 50 फीसदी पदों पर सीधी भर्ती का रास्ता साफ कर दिया है। शेष 50 फीसदी पद प्रोन्नति से भरे जाएंगे। इससे पहले शिक्षकों के सभी पद प्रोन्नति से ही भरने की व्यवस्थाथी।
नियमावली की धारा-21 में संशोधन के प्रस्ताव को अनुमोदित कर कैबिनेट ने परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों के अंतर जनपदीय तबादलों की पुरानी व्यवस्था को भी बहाल कर दिया है। मायावती सरकार के कार्यकाल में शिक्षकों को उनकी मर्जी के मुताबिक एक से दूसरे जिले में तबादला करने की सुविधा देने के मकसद से नियमावली मेंसंशोधन किया गया था। इन तबादलों में शिक्षिकाओं को वरीयता दी गई थी। इसकेलिए शिक्षकों से बीती 31 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे। ऑनलाइन आवेदनों के आधार पर बेसिक शिक्षा परिषद ने हाल ही में 24,392 शिक्षकों के तबादले किये थे। इस व्यवस्था को समाप्त कर अंतर जनपदीय तबादले की पूर्व में प्रचलित व्यवस्था फिर से लागू कर दी गई है। शिक्षकों की नियुक्ति की न्यूनतम आयु 18 से बढ़ाकर 21 वर्ष करने के लिए नियमावली की धारा-6 में भी संशोधन का प्रस्ताव मंजूर किया गया है

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Lo bhai sab confusion par viram
Shakul Gupta
exclusive at navat
टीईटी को मिला पात्रता परीक्षा का दर्जा
Updated on: Tue, 28 Aug 2012 07:45 PM (IST)
-उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली में संशोधन
-हाईस्कूल, इंटर व स्नातक के अंकों केआधार पर होगा चयन
-सीटीईटी भी पात्रता परीक्षा के तौर पर मान्य
-विज्ञान व गणित शिक्षक के 50 फीसद पदों पर सीधी भर्ती
जागरण ब्यूरो, लखनऊ : शिक्षा के अधिकार कानून के तहत कक्षा एक से आठ तक में शिक्षकों की भर्ती के लिए अनिवार्य की गई अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) को राज्य में पात्रता परीक्षा का दर्जा मिल गया है। टीईटी को पात्रता परीक्षा देने के लिए कैबिनेट ने मंगलवार को उप्र बेसिक शिक्षा (अध्यापक) सेवा नियमावली, 1981 की धारा-14 में संशोधन के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी है। नियमावली में इस संशोधन के बाद शिक्षकों की भर्ती का आधार टीईटी की मेरिट की बजाय हाईस्कूल, इंटरमीडिएट और स्नातक के अंकों के आधार पर जिला स्तर पर तैयार की जाने वाली मेरिट होगी।
कैबिनेट ने नियमावली की धारा-8 में संशोधन के प्रस्ताव को मंजूरी देकर शिक्षकों की नियुक्ति के लिए अनिवार्य पात्रता परीक्षा के रूप में टीईटी के साथ अब केंद्र सरकार द्वारा आयोजित केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (सीटीईटी) को भी मान्यता दे दी है। इस संशोधन के बाद सीटीईटी उत्तीर्ण अभ्यर्थी भी राज्यमें शिक्षकों की भर्ती के लिए आवेदन कर सकेगा। नियमावली की धारा-5 में संशोधन के प्रस्ताव को स्वीकृति देकर कैबिनेट ने परिषदीय जूनियर हाईस्कूलों में विज्ञान और गणित शिक्षकों के 50 फीसदी पदों पर सीधी भर्ती का रास्ता साफ कर दिया है। शेष 50 फीसदी पद प्रोन्नति से भरे जाएंगे। इससे पहले शिक्षकों के सभी पद प्रोन्नति से ही भरने की व्यवस्थाथी।
नियमावली की धारा-21 में संशोधन के प्रस्ताव को अनुमोदित कर कैबिनेट ने परिषदीय स्कूलों में शिक्षकों के अंतर जनपदीय तबादलों की पुरानी व्यवस्था को भी बहाल कर दिया है। मायावती सरकार के कार्यकाल में शिक्षकों को उनकी मर्जी के मुताबिक एक से दूसरे जिले में तबादला करने की सुविधा देने के मकसद से नियमावली मेंसंशोधन किया गया था। इन तबादलों में शिक्षिकाओं को वरीयता दी गई थी। इसकेलिए शिक्षकों से बीती 31 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन मांगे गए थे। ऑनलाइन आवेदनों के आधार पर बेसिक शिक्षा परिषद ने हाल ही में 24,392 शिक्षकों के तबादले किये थे। इस व्यवस्था को समाप्त कर अंतर जनपदीय तबादले की पूर्व में प्रचलित व्यवस्था फिर से लागू कर दी गई है। शिक्षकों की नियुक्ति की न्यूनतम आयु 18 से बढ़ाकर 21 वर्ष करने के लिए नियमावली की धारा-6 में भी संशोधन का प्रस्ताव मंजूर किया गया है

pradeep parashar said...

vk ji kya b.ed. k marks count nahi honge

pradeep parashar said...

vk ji kya b.ed. k marks count nahi honge

Shabbir hussain said...

Yeh sansodhan btc ke liye h,72825 ke liye nahi.

vivek said...

thanks vk yadav ji lekin bhrti kb start hogi aur sci math ki bhrti kb niklegi

sanjeev said...

i think amendment done by previous govt regarding basic teachers recruitment has been approved by c m .in previous cabinet meeting presided by c m the decision regarding tet was left on c m himself .

Anonymous said...

BaS bhrti start ho
ab nai date na mile
radd ho to ho jaye leken
naya adv jald nikale

Anonymous said...

BaS bhrti start ho
ab nai date na mile
radd ho to ho jaye leken
naya adv jald nikale

ram sundar said...

Muskan ka blog restart ho chuka hai par vk yadv ki update sabse aage hai.

ram sundar said...

Muskan ka blog restart ho chuka hai par vk yadv ki update sabse aage hai.

ram sundar said...

Muskan ka blog restart ho chuka hai par vk yadv ki update sabse aage hai.

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Kuchha mitra news padhkar pareshan hai ki bed ke marks nahi add kiye jayenge-
Aisa nahi hai mere bhaiyo bed bhi snatak degree hai master degree nahi to phir kyo confusion???

V.K.Yadav-Ghazipur said...

Kuchha mitra news padhkar pareshan hai ki bed ke marks nahi add kiye jayenge-
Aisa nahi hai mere bhaiyo bed bhi snatak degree hai master degree nahi to phir kyo confusion???

VIKRAM PRATAP SINGH SAIFAI (ETAWAH) said...

aasha karo ke ab nai date nahi melegi

Anonymous said...

v.k g meri age 20 ho rhi h.main apply ni kar sakta kya

Anonymous said...

Vk yadav ji main udit kumar pal new dene k liye bahut bahut dhanybad meri taraf se aapko sadar charan sparsh. Kyo ki keval aapki bajah se hm jaise hajaro logo ko ghar baithe 2 update news mil jati h jisse hme dusre din tak k news paper ka injar nhi karna parta